*झाबुआ~तेलंगाना राज्य से आये लोग परोस रहे नकली ताड़ी का धीमा जहर*~~

*बेधड़क निडरता से खुलेआम बेंच रहे यह लोग नकली केमिकल युक्त ताड़ी*~~

*नकली ताड़ी विक्रेताओ का क्या है रिकार्ड कुछ पता नहीं*~~

*जिला ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025*~~


झाबुआ - झाबुआ जिले में बे मौसम में ताड़ी का कारोबार काफी फल फुल रहा है अगर बात झाबुआ जिले की करे तो झाबुआ जिले के विभिन्न ग्रामीण अंचलो से लेकर थांदला के मेंन बाजार सहित पेटलावद में भी कई इलाको में खुले आम नकली ताड़ी का विक्रय हो रहा है मगर पुलिस व् आबकारी विभाग सब कुछ जानते हुवे भी अनजान बनी हुई है हर बार इन के द्वारा छोटी मोटी कार्यवाही कर अपने कर्तव्य से पल्ला झाड लेती है

*तेलगाना राज्य के अन्य जिलो से आकर बेखोफ होकर बन गए नकली ताड़ी व्यवसायी*

जिले के ग्रामीण अंचलो सहित ,थांदला के मेन बाजार में तो पेटलावद के आसपास के इलाको में तेलंगाना राज्य के विभिन्न जिलो से आये लोग नकली ताड़ी का व्यवसाय कर लोगो की सेहत के साथ खिलवाड़ कर खूब चांदी काट रहे है और यहां के रहवासियों को नकली ताड़ी परोस कर उन्हें अपना शिकार बना रहे है तथा इस नकली ताड़ी का सेवन करने वाला व्यक्ति धीरे धीरे इस ताड़ी के सेवन का आदि हो जाता है नाम नहीं छापने की शर्त पर ताड़ी का सेवन करने वाले एक व्यक्ति ने बताया की अगर वह ताड़ी का सेवन न करे तो उसे बेचेनी होती है तथा जी मचलता है और अगर ताड़ी का सेवन कर लेता हु तो मुझे कुछ नहीं होता कुल मिलाकर में इस नकली ताड़ी का आदि हो चूका हु

*नकली ताड़ी विक्रेताओ का क्या है रिकार्ड कुछ पता नहीं*

अगर बात इन नकली ताड़ी विक्रताओ की करे तो तेलगाना राज्य के कई जिलो से आकर यह बेरोकटोक अपना व्यवसाय कर  रहे है मगर इनका कोई रिकार्ड आज तक पुलिस द्वारा खंगाला नहीं गया ,ऐसे में अगर अपने गृह इलाके में कोई वारदात को अंजाम देकर अगर झाबुआ जिले में रह रहे है तो इसका जिम्मेदार कोंन ...यह एक सबसे बड़ा सवाल है ...?

*नाम मात्र की कार्यवाही मगर नतीजा सिफर*
अगर बात इन नकली ताड़ी व्यवसायी पर कार्यवाही की करे तो पुलिस व् आबकारी विभाग द्वारा छोटी मोटी कार्यवाही की जाती है मगर आज तक इन नकली ताड़ी बेचने वालो पर को ठोस कार्यवाही नहीं की गई अगर ताड़ी बड़ी मात्रा में मिलती भी है तो उसे सडको पर बहा दिया जाता है और छोटा मोटा केस बनाकर खाना पूर्ति कर दी जाती है अगर बात ताड़ी बनाने की करे तो जिस इलाके में नकली ताड़ी बिक रही है वहा ताड़ के झाड ही नहीं है ये लोग फ्लेवर पाउडर घुले पानी में नीला थोथा, यूरिया और कास्टिक सोडा ,सेक्रिन ,नीबू शत  आदि मिलाकर  नकली ताड़ी बना रहे है और यह जहरीली ताड़ी लोगो को परोस  उन्हें नशे का आदि बनाकर उनके स्वास्थ्य  के साथ खिलवाड़ कर रहे है मगर लगता है स्थानीय प्रशासन कोई बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है शायद उसके बाद ही  प्रशासन जागेगा ऐसा इस जिले में प्रतीत हो रहा है


Share To:

Post A Comment: