नसरुल्लागंज~मध्य प्रदेश प्रशासन द्वारा  समस्त सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल कक्षा 9 से लेकर 12वीं तक खोले गए हैं~~

नसरुल्लागंज के आसपास के  समस्त स्कूलों मैं मेन गेट पर ही सभी नियम देखने को मिलेंगे लेकिन क्लास रूम के बहार  किसी भी बच्चों ने आपने चेहरे पर ना ही मार्क्स लगा था ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे थे नाही स्कूल मैनेजमेंट इन बच्चों कुछ कह रहा था~~

नसरुल्लागंज से जिला ब्यूरो आनंद अग्रवाल की रिपोर्ट~~

मध्यप्रदेश शासन द्वारा समस्त प्राइवेट एवं सरकारी स्कूलों को खोलने की परमिशन 4 जनवरी 2021  से दी थी समस्त स्कूल खुल गए लेकिन प्राइवेट एवं सरकारी  स्कूलों में जो नियमों का पालन करने के लिए कहा गया था वह देखने को नहीं दिखे जब एक प्राइवेट स्कूल *देवमाता हाई सेकेंडरी स्कूल राला* मैं जाकर देखा तो मेन गेट पर दिखाने के लिए सभी नियम फॉलो हो रहे थे लेकिन ऑफिस में क्लास रूम में इन सभी नियमों को ताक पर रखा जा रहा था जब स्कूल ऑफिस मैं बैठे कर्मचारी से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि हमारे यहां सभी बच्चों को 1 मीटर की दूरी पर बैठाया जा रहा जब इन नियमों को क्लास  में दिखाने को कहा गया  तो स्कूल मैनेजमेंट ने मना कर दिया जब स्कूल ग्राउंड में खड़े होकर देखा तो पूर्ण बच्चे क्लास रूम के बाहर खड़े होकर हंसी मजाक कर रहे थे ना किसी ने मार्क्स  लगा था और ना ही सोशल डिस्टेंस का पालन हो रहा था जब इसकी जानकारी ग्राउंड में  उपस्थिति टीचर से पूछा तो वह कहने लगे मुख्यमंत्री आमसभा कर रहे हैं शादी विवाह हो रहे हैं  किसान आंदोलन कर रहे हैं जब किसी को कोरोनावायरस नहीं हुआ तो अव कैसे होगा और हम सभी बच्चों को 6 फीट की दूरी पर बिठा रहे हैं एक तरफ ऑफिस में बैठे कर्मचारी  कुछ और कह रहे हैं बाहर खड़े टीचर कुछ और बता रहे हैं क्लासरूम के बहार  कुछ और देखने को मिल रहा है सच्चाई क्या है अगर स्कूल टीचरों की यह भावना है छे महीने में नहीं हुआ तो अब हो जाए ऐसी सोच रखते हैं देव माता स्कूल के टीचर कृपा अपने बच्चों को स्कूल भेजने से पहले स्कूल जाकर पूरी जानकारी दें उसके बाद ही अपने बच्चों को स्कूल  भेजें नहीं तो स्कूल मैनेजमेंट के भरोसे अपने बच्चों को बिल्कुल ना भेजें


Post A Comment:

0 comments: