झाबुआ~पहले दुकान पर करते हैं सौदा फिर गोडाउन से लाकर ग्राहकों को बेच रहे घातक चायना डोर~~

हर साल हादसे फिर भी कार्रवाई नहीं-कोई सुध नहीं ली,असंवेदनशील प्रशासन ने अभी तक ~~


झाबुआ संजय जैन~~

हर साल की तरह इस साल भी चायना डोर से सड़क पर चलने वाले लोगों की जान पर बन आई। इस मामले में जिले के असंवेदनशील प्रशासन ने अभी तक कोई सुध नहीं ली। कागजों पर प्रतिबंध लगाने वाले अफसर इस बार चायना डोर पर कार्रवाई करना ही नहीं चाहते। व्यापारी कार्रवाई से बचने के लिए दुकानों पर सौदा करने के बाद घर में छुपाकर रखी चायना डोर गुपचुप तरीके से बेच रहे हैं। बाजार में चायना डोर नहीं मिलने का रोना रोने वाले अफसरों के अलावा हर कोई चायना डोर खरीदते दिखाई दिया। चायना डोर से घायल होने के कई मामले सामने आने के बाद भी इस पर कार्रवाई करने के लिए कोई अफसर तैयार नहीं है। 






नही हो रहा किसी की अपील का असर.......
आमजन और पशु-पक्षियों के लिए घातक सिद्ध हो चुके चायना डोर बेचने वाले व्यापारियों को न तो किसी की अपील का असर हो रहा है और न ही प्रशासनिक कार्रवाई का डर है। शहर के हर गली-मोहल्लों से बच्चे उचके भर-भर के चायना डोर खरीद कर लाते रहे। 






20 से ज्यादा दुकानों पर धंधा....
क्षेत्र में करीब 20 से ज्यादा दुकानों पर चायना डोर बेची जा रही है। कार्रवाई न हो, इसके लिए व्यापारियों ने इस बार नया पैतरा अपनाया है।   दुकान पर चुनिंदा लोगों से ही चायना डोर के संबंध में सौदा किया जाता है। इसके बाद डोर की डिलेवरी व्यापारी अपने घर के आसपास कर रहे हैं।






सख्त कार्रवाई करेंगे.....
शहर में चायना डोर सहित किसी भी तरह की घातक वस्तुओं को बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। नपा अधिकारी को भी इस संबंध में  निर्देश दिए हैं। इसके बाद भी यदि कोई चायना डोर बेचते पाया गया तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।
............एम.एल.मालवीय-एसडीएम




Post A Comment:

0 comments: