झाबुआ~चिकित्सको के अभाव में मरीजो को होना पड रहा परेशान-नही हो रहा कलेक्टर के निर्देशो का पालन.~~

करना पडता है गुजरात राज्य के दाहोद की ओर रूख~~


झाबुआ। संजय जैन~~

जिला चिकित्सालय एक बार फिर से अखबारो की सूर्खियो में आने को तैयार हो गया है। जहां पूर्व में कई बार अखबारो के माध्यम से जिला चिकित्सालय की अव्यवस्थाओ के बारे में अवगत कराया गया था। वही आज एक बार फिर से जिला चिकित्सालय में अव्यवस्थाएं सामने उजागर हो रही है। 





 
आधे से ज्यादा चिकित्सक नदारद....
जिला चिकित्सालय में जहां ओपीडी का समय सुबह 9 से दोपहर 1.30 बजे तक रहता है,जिसके पश्चात् 1.30 बजे से 2.30 बजे तक खाने की छुट्टी होती है। उसके पश्चात् 2.30 से 4 बजे तक समय ओपीडी का खुला रहता है। ऐसे में सुबह के समय चिकित्सको का आभाव मरीजो का परेशान कर रहा है। गुरूवार का यही आलम जिला चिकित्सालय में दिखाई दिया,जहां ओपीडी के समय करीब 12.30 बजे केवल एक या दो चिकित्सक ही ओपीडी में बैठे हुये दिखाई दिये,बल्कि आधे से ज्यादा चिकित्सक नदारद रहे। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला चिकित्सालय में करीब 27 चिकित्सको की भर्ती हुई है,जिसमें महिला चिकित्सक भी शामिल है। उसके बावजूद भी जिला चिकित्सालय में ओपीडी के समय नपेतुले ही चिकित्सक बैठे हुये दिखाई देते है। 





 
करना पडता है दाहोद की ओर रूख....
जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजो को चिकित्सको के अभाव में या तो भटकना पडता है या फिर उल्टे पैर ही लौटना पडता है। यदि कोई विकल्प नही मिलता है तो उन्हे सीधे गुजरात राज्य के दाहोद की ओर रूख करना पडता है। जहां गरीब मरीज को जहां नि:शुल्क उपचार मिलना था,वही उसे दाहोद में हजारो रूपये खर्च करना पडते है। ऐसे में जिला चिकित्सालय मे सुविधाओ के आभाव में वरिष्ठ अधिकारियो का कोई ध्यान नही दिया जा रहा है। 






बिगडी हुई अव्यवस्था को कितने समय में व्यवस्थित किया जायगा....?
पूर्व में कलेक्टर रोहित सिंह के द्वारा जिला चिकित्सालय की व्यवस्था में सुधार के लिये कई बार निरीक्षण कर सुधार के लिये निर्देश भी दिये गये है। लेकिन बावजूद इसके जिला चिकित्सालय में अव्यवस्थाओ का ढॉचा अभी भी जैसे का वैसा ही बना हुआ है। जिसके कारण गरीब मरीजो को जिले का सबसे बडा अस्पताल होने के बाद भी इधर-उधर भटकना पड रहा है। आगे देखना यह है कि कलेक्टर रोहित सिंह के द्वारा जिला चिकित्सालय की बिगडी हुई अव्यवस्था को कितने समय में व्यवस्थित किया जाता है...........




Share To:

Post A Comment: