धार~ प्रेस क्लब द्वारा मीडिया माफिया पर कार्रवाई करने हेतु मुख्यमंत्री के नाम अपर कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन~~

धार प्रेस क्लब एवं जिला प्रेस क्लब के संयुक्त तत्वाधान में आज मीडिया माफिया पर कार्रवाई करने बाबत एक ज्ञापन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम धार अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह सोलंकी को सौंपा गया। प्रेस क्लब द्वारा दिए गए ज्ञापन में कहा गया कि आप के निर्देश पर बीते 1 माह से मध्य प्रदेश के प्रत्येक जिले में विभिन्न माफियाओं पर ठोस कार्रवाई की जा रही है।चाहे वह ड्रग माफिया हो या शराब माफिया हो, भू-माफिया हो या गरीबों का राशन हड़पने वाले माफिया। समाज के इन दुश्मनों पर आपके निर्देश पर कमरतोड़ कार्यवाही ने आम जनता को राहत पहुंचाने का काम किया है। 
। समाज में व्याप्त गंदगी के उन्मूलन की दिशा में शासन के यह प्रयास साधुवाद के पात्र हैं। मीडिया का क्षेत्र भी माफियाओं की दखलंदाजी से अछूता नहीं है कई तथाकथित समाचार पत्र चैनल यूट्यूब एवं फर्जी पत्रकार संगठन इन दिनों जोर-शोर से सक्रिय हैं।विभिन्न शासकीय विभागों, व्यापारिक क्षेत्रों और पुलिस थानों तक इन फर्जी पत्रकारों की बे-रोकटोक आमद देखी जा रही है। इन तत्वों द्वारा समाचारों की आड़ में ब्लैकमेलिंग करना आम बात हो गई है। जबकि तथाकथित नामों वालले समाचार-पत्रों/चैनलों को ना तो केंद्र सरकार ना ही राज्य सरकार के सूचना प्रसारण विभाग की कोई मान्यता है और ना ही इनका किसी प्रकार का कोई पंजीयन, बावजूद इसके फर्जी संगठन सिर्फ पत्रकारों के कार्ड बनाकर धन उगाही कर रहे हैं। यही हाल तथाकथित पत्रकार संगठनों के भी हैं। संगठन के नाम पर ये लोग सिर्फ आईडी कार्ड बेचने का धंधा कर रहे हैं। ऐसे संगठनों को रुपए देकर समाज विरोधी तत्व पत्रकार होने का तमगा हासिल कर लेते हैं और उसी कार्ड के सहारे लोगों को डराने-धमकानों और पैसा वसूलने का काम करते हैं। दलाल की भूमिका निभाने वाले ये तत्व सरकारी दफ्तरों में भी अपने पत्रकार होने का रूतबा बताकर अफसरों पर काम के लिए दबाव बनाते हैं। कई मर्तबा तो ये फर्जी तत्व शासकीय सुविधा तक का लाभ उठा लेते हैं। ये लोग आम जनता के बीच भी खुद को पत्रकार बता उन्हें सरकारी काम के नाम पर ठगी का काम भी कर रहे हैं। इनमें से कुछ नशीले पदार्थों के कारोबार में भी लिप्त हैं। इनके इस कृत्य से वास्तविक पत्रकारों की छवि भी धूमिल हो रही है।
महोदय, जब आपके द्वारा प्रत्येक क्षेत्र में व्याप्त माफियाओं को कुचलने का कार्य किया जा रहा है, तो ऐसे में आवश्यकता है कि मीडिया क्षेत्र में सक्रिय फर्जी तत्वों का भी उन्मूलन किया जाए।
इसी तरह पत्रिकारिता के नाम पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का भी जमकर उपयोग कर ब्लेक मेलिंग की जा रही है। अतः अनुरोध है कि मीडिया क्षेत्र में सक्रिय फर्जी तत्वों का भी उन्मूलन किया जाए। इस दौरान प्रेस क्लब अध्यक्ष ज्ञानेंद्र त्रिपाठी,, सचिव अशोक शास्त्री, कमल सिंह सोलंकी, नरेंद्र तेनीवाल, कपिल तिवारी अमरदीप सोलंकी, जसप्रीत सिंह किंग धीरेंद्र तोमर ,सुनील यादव, कमल गिरी गोस्वामी,आशीष यादव, राजेश डाबी, मुकेश श्रीवास, जितेंद्र वर्मा, अक्की पिपलोदिया, रोहित श्रीवास, अमन चौहान सहित अन्य पत्रकार उपस्थित थे।


Share To:

Post A Comment: