बड़वानी~कलेक्टर ने जनता से सीधे सम्पर्क वाले विभागो को दिया सोसल डिस्टेंस गोला बनाने के आदेश ~~

जिले में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के केस पर प्रदेश स्तरीय पदाधिकारियों ने भी व्यक्त की चिन्ता ~~

बड़वानी / कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने जिले में तेजी से बढ़ रहे कोरोना पाजिटिव केस के मददेनजर जिले में संचालित ऐसे शासकीय, अर्द्धशासकीय कार्यालय जहाॅ आम व्यक्तियों का अधिक संख्या में आना-जाना रहता है। उन्हें सोसल डिस्टेंस का पालन सुनिश्चित कराने के लिये गोल घेरे बनाने के आदेश धारा 144 के तहत  दिये है। कलेक्टर ने जिन विभागो को आदेश दिया है, उसमें उचित मूल्य दुकान, गेहूॅ उपार्जन केन्द्र, मण्डी, बैंक, एटीएम, विद्युत विभाग जैसे संस्थान सम्मिलित है। कलेक्टर ने अपने आदेश में इन विभागो के पदाधिकारियों को अपने यहाॅ टोकन सुविधा जैसी व्यवस्था तथा सैनेटाइजर की भी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं, जिससे कोरोना की रोकथाम प्रभावी तरीके से हो सके ।
इसके साथ ही कलेक्टर ने कोविड महामारी के संक्रमण में बढ़ोतरी के मददेनजर धारा 144 के तहत अतिरिक्त प्रतिबंधात्मक ओदश भी तत्काल प्रभाव से जारी कर लागू किये है। इसका उल्लंघन धारा 188 के तहत दण्डनीय अपराध होगा ।
प्रतिबंधात्मक आदेश के तहत अब:-
ऽ शादी समारोह में 50 तथा शव यात्रा में 20 से अधिक व्यक्ति सम्मिलित नहीं होंगे ।
ऽ जिम, स्वीमिंग पुल, सिनेमा घर बंद रहेंगे ।
ऽ उठावना, मृत्युभोज कार्यक्रम में 50 से अधिक व्यक्ति सम्मिलित नहीं होंगे ।
ऽ रेस्टोरेंट में बैठकर खाने पर प्रतिबंध रहेगा, किन्तु टेक अवे भोजन प्रदाय कर सकेंगे ।
ऽ बंद हाल के कार्यक्रम में 50 प्रतिशत हाल क्षमता ( अधिक 100 व्यक्ति ) सम्मिलित हो सकेंगे ।
प्रदेश स्तरीय समीक्षा में बड़वानी में बढ़ते हुये केस के मददेनजर व्यक्त की गई चिन्ता
मंगलवार को प्रदेश स्तरीय समीक्षा के दौरान भी बड़वानी जिले में तेजी से बढ़ रहे कोरोना पाजिटिव केस के मददेनजर चिन्ता व्यक्त की गई । समीक्षा के दौरान पाया गया कि बड़वानी में मिल रहे कोरोना पाजिटिव केस में से 75 प्रतिशत केस पानसेमल एवं सेंधवा क्षेत्र में मिल रहे है। इसके मददेनजर सम्पूर्ण जिले में विशेष व्यवस्था की जाना अत्यन्त जरूरी है।
इस पर कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने तत्काल प्रभाव से उक्त प्रतिबंधात्मक आदेश जारी कर तत्काल लागू करने के निर्देश दिये है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को पुनः 9 आरआरटी ( रैपिड रिस्पाॅड टीम )  एवं 9 एमएमटी ( मोबाइल मेडिकल टीम ) का गठन कर पानसेमल एवं सेंधवा क्षेत्र में घर-घर सर्वे कर संभावित कोरोना पाजिटिव लोगो का सेम्पल लेकर संदिग्धो को होम क्वारेंटाइन में रहना सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये है। इसी प्रकार कलेक्टर ने वरला में भी फीवर क्लिनिक प्रारंभ करने के निर्देश दिये है। जिससे जिले में अब संचालित फीवर क्लिनिक की संख्या 10 से बढ़कर 11 हो जायेगी ।
कलेक्टर ने किया आमजनों से आव्हान
कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने आमजनों से भी आव्हान किया है कि वे प्रतिबंधात्मक आदेशो का पालन अनिवार्य रूप से करें। साथ ही घर पर आने वाले सर्वे टीम के सदस्यों को सही - सही जानकारी दे। जिससे कोरोना को प्रभावी तरीके से रोका जा सके । वहीं कलेक्टर ने लोगो से आव्हान किया है कि यदि उनके गाॅव मोहल्ले में कोई व्यक्ति विगत दिनो में महाराष्ट्र से आया है तो उसकी जानकारी अपने क्षेत्र के राजस्व अधिकारियों को या एसडीएम कार्यालय में बनाये गये कन्ट्रोल रूम पर गोपनीय तरीके से दे। जिससे ऐसे लोगो का स्वास्थ्य परीक्षण करवाते हुये उन्हें अनिवार्य रूप से होम क्वारेंटाइन करवाया जा सके ।


Share To:

Post A Comment: