झाबुआ~हादसे-मौतों की जानकारी आईरेड एप पर करना होगी अपलोड~~

दिया गया पुलिस के विवेचना अधिकारी और ट्रैफिक जवानों को प्रशिक्षण~~





झाबुआ। संजय जैन~~

हाईवे पर हादसों में होने वाली मौतों की जानकारी अब प्रशासन द्वारा एप पर अपलोड की जाएगी। यह नई योजना 1 अप्रैल से शुरू होने वाली है। इसे पूरे देशभर में लागू किया जाएगा। आईरेड-इंडियन रोड एक्सीडेंट डाटा एप पर अपलोड किए गए फोटो,वीडियो सहित अन्य जानकारी का विश्लेषण कर विशेषज्ञ हादसे का कारण और इससे बचने के उपाय बताएंगे। जिले में हर साल करीब 400 से अधिक छोटे-बड़े हादसे होते हैं। इनमें करीब 100 से अधिक लोगों की मौत होती है।





 
दिया गया पुलिस के विवेचना अधिकारी और ट्रैफिक जवानों को प्रशिक्षण ....
देशभर में दुर्घटना में हो रही मौतों की दर कम करने के लिए 1 अप्रैल से एकीकृत सड़क दुर्घटना डेटाबेस परियोजना लागू की जा रही है। इसके तहत हादसा होने के बाद मौके की फोटो और वीडियो के साथ हादसे के कारणों की जानकारी मोबाइल एप आईरेड के माध्यम से अपलोड की जाएगी। इसके बाद मद्रास में बैठे विशेषज्ञों द्वारा इसका विश्लेषण कर हादसों में कमी लाने के लिए उपाय बताए जाएंगे। जिला सूचना विज्ञान कार्यालय द्वारा विकसित किए गए एप को लेकर पुलिस के विवेचना अधिकारी और ट्रैफिक जवानों को प्रशिक्षण दिया गया। पुलिस कार्यालय में पुलिसकर्मियों को इस एप को लेकर प्रशिक्षण दिया गया। ताकि वे मौके पर पहुंचकर सभी जरूरी जानकारियां अपलोड कर सकें।






पुलिस को हादसे के फोटो खींचने होंगे,वीडियो बनाने होंगे......
दुर्घटनाओं का डेटाबेस तैयार करना और हादसों की रोकथाम इसका मुख्य उद्देश्य है। एकत्र किए डेटा का भारतीय प्रौद्योगिक संस्थान मद्रास के दल द्वारा विश्लेषण किया जाएगा। इसके बाद उनके द्वारा हादसों को कम करने के लिए किए जाने वाले उपाय बताए जाएंगे। आईआरएडी प्रोजेक्ट पर काम करने के लिए जिन विभागों का चयन किया गया,उनमें सबसे पहले पुलिस विभाग है। इसके लिए दुर्घटना क्षेत्र के संबंधित जांच अधिकारी दुर्घटना स्थल पर जाकर दुर्घटना की जानकारी मोबाइल एप के माध्यम देंगे। फोटो और वीडियो बनाने होंगे। परिवहन विभाग के विशेषज्ञ फोटो और वीडियो देखकर समीक्षा करेंगे कि हादसा किस वजह से हुआ है।






एप पर प्रशिक्षण दिया है....
पुलिस के विवेचना अधिकारी और ट्रैफिक जवानों  पुलिसकर्मियों को एप का प्रशिक्षण दिया गया है। एप पर घटनास्थल की अक्षांश और देशांत की जानकारी से एक्जेक्ट लोकेशन सहित दुर्घटनाओं का कारण जैसे शॉर्ट टर्न,ओवर स्पीड,क्रासिंग सहित अन्य जानकारियों के साथ मृतकों और घायलों की संख्या अपडेट करेंगे। घटनास्थल के फोटो और वीडियो भी अपलोड किए जाएंगे।
.............आशुतोष गुप्ता-पुलिस अधीक्षक-झाबुआ।




Share To:

Post A Comment: