*झाबुआ~आपदा को अवसर में बदलने का यह केसा फरमान*~~

*पहले भी कोरोना काल मे इन लोगो ने डाला था मजदूरो के निवाले पर डाका*~~

*एसी में बैठने वाले बन गए व्यापारी, जनता को लूटने का निकाला नया तरीका*~~

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025*~~


झाबुआ जिले के मेघनगर में इन दिनों चंद दुमछल्ले अपने आप को बड़ा तीस मार खा समझ रहे जिसकी वजह से कल शाम से ही इन लोगो की सोशियल मिडिया पर जमकर टिप्पणी की जा रही है  
हम आपको बतादे की कल मेघनगर थाना परिसर में एसडीएम मेघनगर के मार्ग दर्शन  में एक बैठक का आयोजन किया गया था नगर के कुछ लोग जो अपने आप को व्यापारी संघ का कर्त्ता धर्ता समझते है नगर में 6 से 12 दुकान खोलने का प्रस्ताव एसडी एम महोदय के समक्ष लिखित में रख दिया उसके बाद जब नगर के फुटकर व्यापारी ,सब्जी व्यवसाइयों को लगी तो उन्होने अपनी भड़ास सोशियल मीडिया पर जमकर निकाली

*सब्जी व्यवसायी यह सुनकर हुवे परेशान , यह कैसा फरमान*

नगर के सब्जी विक्रेताओं को जब यह खबर मिली तो वह गुस्से से आग बबूला हो गए उन्होंने अपनी समस्या को बताते हुवे कहा कि 6 से 12 दुकान खोलने का समय अनुचित है , हमारे पास नजदीकी मंडियों से सब्जी 10 से 11 बजे तक आती है ऐसे में अगर 12 बजे दुकान बंद हो जाएगी तो 1 घण्टे में हम क्या कर लेंगे हमारा धंधा भी चौपट होगा और हमे काफी नुकसान उठाना पड़ेगा , हम इसके पक्ष में कतई नही है इससे अच्छा है कि प्रशासन , बिना मास्क पाए जाने , नियमो की अवहेलना करने वालो पर चालानी कार्यवाही करे उन्हें जेल भेजे तो खुद ग्रामीण भी इस बात का ख्याल रखेगे ओर व्यापारी भी
नगर के कुछ चाटुकारों के कहने पर ऐसा फैसला न ले जो अपना स्वार्थ सिद्ध करने में लगे है

*120 की विमल 160 से 180 में*

नगर में लगातार अफवाहो का दौर जारी है ,की लॉक डाउन लगाया जा रहा है , 10 दिन बन्द रहेगा जैसी अनेको अफवाहों से बाजार भरा पडा है जिसका फायदा चंद व्यापारी उठाकर राशन पानी का सामान के अलावा , विमल गुटखा आदि के दाम बढाकर बेच रहे है जो आपदा को अवसर समझ रहे
है मगर उन्हें यह नही पता कि वह चंद रुपयों के चक्कर मे अपनी ओर अपने परिवार की जान से खिलवाड़ कर रहे है

*जिले भर में बढ़ रहा कोरोना का ग्राफ मगर हम नही सुधरेंगे की तर्ज़ पर चल रहा व्यापार*

झाबुआ जिले में कोरोना ग्राफ के आकड़ो में लगातार  बढ़ोतरी हो रही व्यापारी यो ने ही नही आम आदमी ने कोरोना से हुई मौतों को अपनी आँखों से देखा है उसके वावजूद भी नगर के व्यापारी ओर आमजन खासकर  युवा वर्ग अपने आपको सेफ समझकर न तो मुँह पर मास्क लगा रहे और न ही सोशियल डिस्टेंस का पालन कर रहे है अगर बात शादी ब्याह की करे तो यहाँ भी कोरोना गाइड लाईन की अवहेलना की जा रही है डीजे प्रतिबन्ध के बावजूद भी ग्रामीण इलाकों में डीजे धड़ल्ले से बज रहे , ओर न नियमो का पालन किया जा रहा है

*एसडीएम साहब सावधान, आपको मोहरा बनाकर दुमछल्ले  न कर ले अपना उल्लू सीधा*

नगर में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है आप ओर आप की टीम के अलावा स्वास्थ्य विभाग , पुलिस प्रशासन लगातार इस विकट परिस्थितियों में मुस्तेद है मगर नगर के कुछ दुमछल्ले जो अपने आप को व्यापारी बताकर आपके सामने जो प्रस्ताव रख रहे है वह आपकी की गई मेहनत पर पानी न फेर दे इनमें से कुछ तो पूर्व कोरोना काल मे आपदा के संकट के समय गरीब मजदूरों को दी जाने वाली पूड़ी सब्जी से पुड़िया की संख्या में डाका डाल चुके है ओर पूर्व एसडीएम  की छबि को धूमिल कर चुके है ऐसे में आपको सतर्क रहने और समय पर सही कदम उठाने की जरूरत है वरना यह दुमछल्ले जनता को लूटने के लिए आपको जरिया न बना दे


Share To:

Post A Comment: