बड़वानी~बिना अनुमति अधिकारी न छोड़े अपना मुख्यालय - कलेक्टर श्री वर्मा~~

बड़वानी /जिले में बढ़ रहे तेजी से कोरोना पाजिटिव लोगो के मददेनजर कलेक्टर ने समस्त जिला अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे बिना अनुमति अपना मुख्यालय नहीं छोड़े। साथ ही अपने मोबाइल को हमेशा चालू मोड पर रखे । जिससे आवश्यकता पड़ने पर उनसे सम्पर्क किया जा सके ।
इसी प्रकार कलेक्टर ने समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को भी निर्देशित किया कि वे अपने क्षेत्राधिकार में कार्यरत अधिकारियों से भी उक्त निर्देश का पालन अनिवार्य रूप से करवाना सुनिश्चित करेंगे । जिससे कोरोना के प्रसार पर अंकुश लगने की कार्यवाही सतत जारी रहे । इसी प्रकार कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देशित किया कि यदि उनके क्षेत्र में किसी व्यक्ति की कोरोना पाजिटिव रिपोर्ट आती है तो वे शासन द्वारा निर्धारित प्रक्रिया अनुसार कन्टेंटमेंट एरिया घोषित कर इस क्षेत्र की साफ-सफाई एवं सैनेटाइजर के छिड़काव की व्यवस्था नगरपालिका या जनपद पंचायत के माध्यम से करवाना सुनिश्चित करेंगे ।
फीवर क्लिनिक की मानीटरिंग हेतु खपेड़िया होंगे नोडल अधिकारी
कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने जिले में संचालित 10 फीवर क्लिनिक के सुचारू रूप से संचालन एवं मानिटरिंग हेतु उपसंचालक कृषि श्री केएस खपेड़िया को नोडल अधिकारी बनाया है। श्री खपेड़िया इन फीवर क्लिनिक से रिपोर्ट प्राप्त करने हेतु जिला स्तर पर गठित टीम को भी समय-समय पर मार्गदर्शन प्रदान करते हुये उनकी समस्याओं का निवारण करेंगे ।
मास्क एवं सोसल डिस्टेंस के नियम के पालन हेतु नियुक्त हुये अधिकारी
कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने मेरा मास्क, मेरी सुरक्षा अभियान के तहत चल रही कार्यवाही के निरीक्षण के लिये विभिन्न जिला अधिकारियों को क्षेत्र वार नोडल अधिकारी बनाकर जिम्मेदारी सौपी है। बनाये गये नोडल अधिकारी उन्हें सौपे गये क्षेत्र में अपनी उपस्थिति बनाकर सोसल डिस्टेंस एवं मास्क के नियम का उल्लंघन करने वालो पर की जा रही कार्यवाही का निरीक्षण करते रहेंगे ।
इसके तहत कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा श्री राजेश पंवार को सेगावा वार्ड एवं कसरावद नये पुल की जिम्मेदारी, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण भवन एवं पथ श्री केएल प्रजापति को सेगावा एवं सजवानी रोड़ की जिम्मेदारी, कार्यपालन यंत्री नर्मदाघाटी विकास श्री एसएस चैगड़ को कोर्ट चैराहे से राजघाट पुल तक की जिम्मेदारी, कार्यपालन यंत्री नर्मदाघाटी विकास श्री आरके नवीन को चंचल चैराहे से बड़गाॅव तक की जिम्मेदारी, कार्यपालन यंत्री पीएचई श्री एचएस बामनिया को योगमाया मंदिर से चूनाभट्टी तथा पाटी नाका तक की जिम्मेदारी, संभागीय यांत्रिकी लोक निर्माण श्री पीके जैन को सम्पूर्ण बड़वानी शहर एवं अंजड़ रोड़ की जिम्मेदारी दी गई है।


Share To:

Post A Comment: