बाकानेर~सपने सच हो जाते हैं हर दुआ काम आती है  अमाना ने रमजान के पूरे 30 रोजा रखकर करो ना महामारी से निजात की दुआएं मांगी ~~

बाकानेर/~करो ना महामारी मैं हर पल हर लम्हा देश दुनिया बच्चे बूढ़े सभी दुआएं मांग रहे हैं  लेकिन इस भीषण गर्मी में रमजान पर्व मेंअमाना ने किया संकल्प पूरा ज्ञात हो कि पवित्र रमजान माह की शुरुआत में पहला रोजा रखकर अमाना  तसव्वर हुसैन ने ईश्वर से यह प्रार्थना की थी कि अल्लाह इस कोरोना महामारी को इस दुनिया से खत्म करें वह देश एवं दुनिया में अमन सुकून में भाईचारा कायम रहे इस नियत से संकल्प लेकर पूरे पवित्र रमजान माह के रोजे रखने का संकल्प लिया 8 वर्ष की अल्पायु में इतना बड़ा दृढ़ संकल्प लेकर एक छोटी सी बच्ची ने अपने संकल्प को पूरा कर दिखाया है पूरे रमजान माह के 30 रोजे रखकर अल्लाह से प्रार्थना कि इन मासूम बच्चों की दुआ से कोरोना बीमारी को खत्म करें तथा लोगों में पहले भय को समाप्त करें अल्लाह से यही प्रार्थना दुआ की और उसके नतीजे भी आप हमारे सामने हैं कि अब देश और प्रदेश और जिले तहसील और गांव स्तर पर करो ना महामारी के मरीज कम हुए हैं और जो मरीज थे वह स्वस्थ होकर घर लौट रहे हैं अमाना के रमजान के 30 रोजा रखने पर हम तो यही कहेंगे सपने सच हो जाते हैं हर दुआ काम आती है और फिर बच्चे तो अल्लाह की मूरत होते हैं उनकी दुआएं जल्दी कबूल होती है


Share To:

Post A Comment: