खिलेडी~~जल संकट हुआ विकराल ग्राम पंचायत नदारद~~

जब जल संकट को लेकर जनप्रतिनिधियों से चर्चा की गई तो पल्ला झाड़ते नजर आए~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

कोरोनावायरस से जुझ रहे खिलेडी वासियों के लिए परेशानियां घटने का नाम ही नहीं ले रही है बंद के चलते ठप पड़े धंधों के बीच लोग भयंकर जल संकट भुगत रहे हैं. पखवाड़े भर के अंतराल से भी लोगों को पानी नसीब नहीं हो रहा है,ऐसे में लोग टैंकरों से पानी खरीदकर आर्थिक तंगी के भी शिकार हो रहे हैं। पंचायत की उदासीनता ने  समस्या को और विकराल बना दिया है, अगर दृढ़ इच्छाशक्ति से पंचायत इस दिशा में कोई पहल करें तभी इसका स्थाई निदान संभव है अन्यथा लोगों को इसी तरह जल संकट भुगतना पड़ेगा।

तेज गर्मी अौर हर कोई का कंठ पानी के बिना सुखा एक अौर तेज गर्मी से आसमा से लेकर धरती पेड पोधो कुएं सभी सुखे होने से गाँव मे भीषण जलसंकट से इंसान से लेकर जानवर तक पानी के लिए तरस रहे।ग्रामीण सुबह से शाम तक पानी के लिए संघर्ष करते रहते। यहाँ वहाँ भटक कर पानी ला रहे। खिलेड़ी गांव में फरवरी से ही जल संकट होने लगा था अब मई आ गई है।अौर ज्यादा गाँव मे जल संकट हो गया है यहा ग्राम पंचायत से पेयजल की सप्लाई घरो पर नल से होती है,मगर अभी बीस से पंच्चिस दिन से मोटर जल जाने से पानी सप्लाई नही हो रहा है ?

पंचायत की लापरवाही की वजह से जनता को भुगतना पढ रहा है, वही ग्रामीणों के द्धारा दुर-दुर से अपने-अपने साधनो व पैदल खेतो से जहाँ पानी मिलता,वहाँ से पानी की जुगत कर रहे है।वही जल संकट होने से गांव के कई  किसानों ने अपनी निजी खर्च से अपने -अपने खेत से पाईप लाईन डालकर घर तक पानी लाए है,जिससे लाखो रुपये खर्च किया।सुबह शाम लोग पानी के लिए भटकते एवं पशुओं भी पानी के लिए प्यासे रहते है।वही ग्राम पंचायत पर ग्रामीणो की उदासीनता लोगों को अखर रही है।

*जिम्मेदारीयो का कहना है*

गाँव मे पानी का भीषण जल संकट है पर पानी का जल स्थर नहीं होने से एवं मोटर जल जाने के कारण पानी सप्लाई नही हो पा रहा है, मे एक दो दिन मे मोटर ठीक करवाता हुं।

-सुरेश वैष्णव
पंचायत सचिव खिलेडी


Share To:

Post A Comment: