धार ~ग्राम धरावरा के कोविड सेंटर पास आज जिला प्रशासन को सूचना मिली कि किसी डॉक्टर के निजी वाहन में बड़ी मात्रा में दवाइयां रखी हुई है~~

सिटी मजिस्ट्रेट और पुलिस का अमला तत्काल वहां पहुंचा और जांच करने के बाद वाहन को जप्त करने की कार्यवाही की गई,~~

धार से डाँ. अशोक शास्त्री ~~

धार के ग्राम धरावरा के कोविड सेंटर पास आज जिला प्रशासन को सूचना मिली कि किसी डॉक्टर के निजी वाहन में बड़ी मात्रा में दवाइयां रखी हुई है सिटी मजिस्ट्रेट और पुलिस का अमला तत्काल वहां पहुंचा और जांच करने के बाद वाहन को जप्त करने की कार्यवाही की गई, तभी जिला प्रशासन को सूचना मिली कि वाहन मालिक एक आयुर्वेदिक चिकित्सक है और इनका एक निजी क्लिनिक भी नालछा क्षेत्र में संचालित किया जा रहा है जब टीम नालछा पहुंची तो शासकीय अस्पताल के ठीक पास ही एक क्लीनिक में कई मरीज एलो पैथी पद्धति से उपचार कराते पाए गए,  इतना ही नही क्लिनिक के अंदर के मरीज जमीन पर लेटाकर उपचार दिया जा रहै था , टीम ने जब जांच की तो उन मरीजों में एक मरीज कोविड 19 से संक्रमित भी निकला, इस कार्रवाई के दौरान मौके पर पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट शिवांगी जोशी ने बताया कि सूचना के बाद धराहरा और उसके बाद नालछा में एक क्लीनिक पर छापा मारा है इस क्लीनिक को आयुर्वेदिक चिकित्सक द्वारा संचालित किया जा रहा था साथ ही इस क्लीनिक में कई मरीजों को जमीन पर लेटा कर एलोपैथी पद्धति से उपचार दिया जा रहा था साथ ही मरीजों में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज भी मिला है बाकी मरीजों की भी जांच कराई जाएगी फिलहाल बाकी मरीजों को धार अस्पताल में आइसोलेशन के लिए भेज दिया गया है वही क्लीनिक से सारी दवाएं जप्त कर आयुर्वेदिक चिकित्सक के क्लीनिक सील किया गया है और चिकित्सक पर एफ आई आर दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं साथ ही पूरे मामले की गंभीरता से जांच की जा रहे, इस पूरे मामले के पास एक बार फिर स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारियों पर पर सवाल उठने लगा है कि आखिर क्यों शासकीय अस्पताल के ठीक पास है बिना अधिकार और अनुमति के आयुर्वेदिक चिकित्सक द्वारा एलोपैथी पद्धति से इलाज किया जा रहा था साथ ही मरीजो कर मरीजों से मोटी रकम भी वसूली जा रही थी, अब तक कोई कार्यवाही क्यो नही हो पाई


Share To:

Post A Comment: