झाबुआ~बिजली बिल कम करने कंपनी लोगों को दे रही टिप्स-साधारण उपायो से बिजली बिल कम कर सकते हैं~~



झाबुआ। संजय जैन~~

गर्मी के मौसम में अधिक बिजली बिल आने की समस्या से लोग परेशान रहते हैं। कुछ आसान से उपाय हैं जिन्हें करने से लोग बिजली बिल को कम कर सकते हैं। इस तरह के कई टिप्स दिए गए हैं। इससे बिजली बिल कर होने से बचत भी होगी और समस्या का निदान भी होगा। जैसे तापमान में बढ़ोतरी होती है तो उसी तरह बिजली की खपत भी बढ़ जाती है। इससे बिजली का बिल भी अधिक आता है। मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा कुछ कारगर तरीके सुझाए गए हैं जिससे बिजली के बिल को कम किया जा सकता है।






साधारण उपायो से बिजली बिल कम कर सकते हैं......
एसी का इस्तेमाल करने पर .....
एसी का इस्तेमाल करने वालों के लिए एसी के टेंप्रेचर को 24 से 26 डिग्री के बीच सेट करने को कहा गया है। इससे नीचे टेंप्रेचर करने पर एसी के कंप्रेशर को ज्यादा मेहनत करना पड़ती है। एसी ज्यादा देर तक चलता है,इसलिए बिजली भी ज्यादा खर्च होती है। इसलिए बिल भी ज्यादा आता है। एसी के साथ-साथ कमरे में पंखा भी चलाएं। एसी के एयर फिल्टर को हर 10-15 दिन में अच्छी तरह धोकर साफ  करना चाहिए।






पंखे इस्तेमाल करने वालों के लिए ......
घर के सब पंखों की सर्विसिंग करा लें। खराब कंडेंसर,बाल बेयरिंग इत्यादि को तुरंत बदलवा लें।





 
फ्रिज इस्तेमाल करने वालों के लिए....
रेफ्रिजरेटर में कोई खराबी न भी दिखाई दे रही हो तो गर्मी का मौसम ठीक से शुरू होने के पहले रेफ्रिजरेटर की जांच करा लें। रेफ्रिजरेटर का दरवाजा बार-बार ना खोलें। रेफ्रिजरेटर का दरवाजा ज्यादा देर तक खुला ना रखें। एकदम गर्मागर्म खाना या दूध फ्रिज में न रखें। ऐसा करने से भी कंप्रेसर को ज्यादा देर चालू रहना पड़ता है और आपका बिजली बिल बढ़ता है।






कूलर इस्तेमाल करने वालों के लिए......
कूलर से पूरी ठंडक पाने के लिए जरूरी है कि जितनी हवा फेंक रहा है,उतनी हवा कमरे से बाहर निकलने का भी पूरा इंतजाम हो। कूलर के पैड यदि खराब हो गए हैं तो उन्हें बदलवा लें। कूलर के पंखे और पंप की आयलिंग ग्रीसिंग करा लें। कूलर के पंखे के कंडेंसर की जांच जरूर कराएं। कूलर के रेगुलेटर की भी जांच कराना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक रेगुलेटर से बिजली कम खर्च होती है।






ये जरूरी टिप्स भी अपनाएं .......
अपने घर में बिजली के वही वायर इस्तेमाल करें जिन पर आईएसआई का मार्क है। वायरिंग पुरानी,खराब होने से भी बिजली ज्यादा खर्च होती है और घर में आग लगने का खतरा हो सकता है। बिजली की मरम्मत का काम लाइसेंसधारी ठेकेदार, इलेक्ट्रिशियन से ही कराएं। एलईडी लाइट का ही इस्तेमाल करें।




Share To:

Post A Comment: