बाकानेर~आशा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को लोक विज्ञान संस्थान देहरादून ने सुरक्षा कीट वितरण किए ~~
                            
बाकानेर  धार  सैयद रिजवान अली ~~

बाकानेर~कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर, जो भारत के शहरों को तबाह कर रही है, अब छोटे शहरों और गांवों में भी तेजी से फैल रही है। भारत के ग्रामीण और छोटे शहरों में स्वास्थ्य का बुनियादी ढांचा शहरों की तुलना में बहुत कमजोर है। इसी वजह से गांव में कोविड-19 की रोकथाम में फ्रंटलाइन कार्यकर्ता - आशा, ए.एन.एम तथा आंगनवाड़ी की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है।
लोक विज्ञान संस्थान (पी.एस.आई.), देहरादून, धार जिले में स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर कोविड-19 की रोकथाम के लिए काम कर रही है।
इसी के चलते आज दिनांक 31 मई 2021 को संस्था ने जनपद कार्यालय विकास खण्ड उमरबन में स्वास्थ्य विभाग एवं आई.सी.डी.एस. कार्यालय के कार्यकर्ताओं की सुरक्षा एवं सशक्तिकरण के लिए स्वच्छता किट - सैनिटाइजर, मास्क, पी.पी. कोट तथा जागरूकता सामग्री में पुस्तिका एवं पोस्टर दिए। जिसमें आशा, ए.एन.एम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं कीे कोविड रोकथाम में भूमिका, फ्लू और कोविड के लक्षण में अंतर, निवारक उपाय, मानसिक प्रभाव, बच्चों में कोविड के लक्षण और बचाव, टीकाकरण एवं ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर के सही माप लेने के बारे में बताया गया है।
यह सामग्री एनजीओ लोक विज्ञान संस्थान, देहरादून द्वारा डाॅ. विरेन्द्र धारवे, ब्लाॅक मेडिकल आफिसर, उमरबन तथा आई.सी.डी.एस. परियोजना अधिकारी सुश्री अर्चना सिंह मंडोई के माध्यम से कार्यकर्ताओं को सौंपी गई। डाॅ. धारवे ने इस काम के लिए लोक विज्ञान संस्थान की सराहना की और सभी कार्यकर्ताओं का आॅक्सीमीटर और थर्मामीटर के सही इस्तेमाल की जानकरी दी। सुश्री अर्चना सिंह मंडोईे ने भी दी गई कोविड रोकथाम सामग्री को बहुत उपयोगी पाया और सभी कार्यकर्ताओं को इसके विषय में समझाया।
इससे पहले दिनांक 25 मई, 2021 को संस्था ने धर्मपुरी ब्लॉक में आई.सी.डी.एस. कार्यालय के कार्यकर्ताओं की सुरक्षा एवं सशक्तिकरण के लिए कु. प्रिया बुन्देल, परियोजना अधिकारी धरमपुरी के माध्यम से कोविड रिलीफ सामग्री दी थी। कु. प्रिया बुन्देल ने कोविड-19 के बचाव हेतु सभी को मास्क, सेनेटाईज एवं शोसल डिस्टेंस का पालन करने हेतु प्रेरित किया था। लोक विज्ञान संस्थान से हिना कन्नौज, कमल सिंह डावर और अनीता शर्मा के द्वारा फेंक वाटर (यू.के.) के सहयोग से यह कोविड-19 रोकथाम सामग्री स्वास्थ्य विभाग उमरबन, महिला बाल विकास विभाग उमरबन एवं धरमपुरी को उपलब्ध कराई गई। आभार अनीता शर्मा ने माना


Share To:

Post A Comment: