बाकानेर~करोना कॉल में अपने विवाह की तिथि को आगे बढ़ाया और सब की जिंदगी बचाने और ठीक करने में लगे हैं डॉक्टर वीरेंद्र डॉक्टर सुनीता~~

सैयद रिजवान अली बाकानेर~~

बाकानेर ~जीता तो हर कोई है यहां जिंदगी जीते हैं कितने लोग सार्थक जिंदगी जीता तो वही है जो दूसरों के लिए जीता है और समर्पित होता है इस कहावत को चरितार्थ किया है ब्लॉक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र bakaner में ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर के पद पर कार्यरत वीरेंद्र धारवे ने जो कॉविड में ड्यूटी कर शिवा क्लिनिक और सबसे जोखिम का काम पोस्टमार्टम भी देख रहे हैं साथ ही कॉविड 19 वैक्सीन टीकाकरण मानिटरिंग भी कर रहे हैं उनका विवाह बाग निवासी डॉ सुनीता मंडलोई जो कि उज्जैन में आयुष मेडिकल ऑफिसर होकर धनवंतरी हॉस्पिटल में कोविड-19 मरीजों की देखभाल कर रही हैं दोनों की शादी 26 मई पारिवारिक रीति रिवाज से लॉकडाउन के पहले तय हो गई यहां तक कि रिश्तेदारों को दोस्तों को निमंत्रण पत्र विवाह के भेज दिए लेकिन देश प्रदेश और फिर इंसानियत मानवता के खातिर मरीजों की देखभाल पहले इसे देखते हुए अपने विवाह को आगे बढ़ा दिया और दूसरों का जीवन बचाने में लग गए दोनों ने एक स्वर में कहा हमारा विवाह आइंदा में हो जाएगा लेकिन जो अपने हैं जिनके सपने हैं जो मरीज है उन्हें बचा कर उनकी सेवा कर उन्हें उनके अपनों से बिछड़ने न देना यह हमारी जिम्मेदारी है गौरतलब है कि डॉ वीरेंद्र धारवे निवासी मनावर डॉ सुनीता मंडलोई निवासी बाग दोनों की बातचीत इतनी प्रभावशाली है कि मरीज इनकी बातचीत से इनके व्यवहार से इनके उपचार से जल्दी ठीक हो जाते है बुजुर्गों और बच्चे तो मानो इनके दीवाने हो सभी को सम्मानजनक शब्दों से यह पेश आते हैं आदर से बोलते है हर मरीज और उनके परिजन इन्हें ढेरों दुआएं शुभकामनाएं देते है और फिर कहते हैं जो इंसान अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह इमानदारी से करता है तो कुदरत भी साथ देती है और फिर डॉ वीरेंद्र धारवे के ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर बनने के बाद जैसे खुशियों का तांता लग गया वैक्सीन भी जल्दी आने लगी और बहुत दिनों से वर्षों से जो मांग ऑक्सीजन मशीन की थी वह भी क्षेत्रवासियों की पूरी हो गई डॉ वीरेंद्र ने बताया घर के बड़ों से आइंदा में विवाह की तारीख तय की जाएगी शासन की गाइड लाइन के हिसाब से विवाह की रस्में होगी और कम से कम खर्च होगा कोशिश होगी कि हम विवाह में कम खर्च करें और ज्यादा से ज्यादा गरीबों की सेवा करें मदद करें क्षेत्रवासियों ने यह मांग रखी है कि विवाह के बाद डॉक्टर सुनीता भाभी भी क्षेत्र में आकर अपनी सेवाएं दे खासकर महिला चिकित्सक की कमी है क्षेत्र में वह दूर हो जाएगी


Share To:

Post A Comment: