धार~जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण के बावजूद विवाह समारोह के आयोजन लगातार हो रहे हैं/~~

धार ( डाँ. अशोक शास्त्री )

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण के बावजूद विवाह समारोह के आयोजन लगातार हो रहे हैं, प्रशासन ने जहां सभी अनुमतियां निरस्त कर दी है। इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्र में लोग एकत्रित होकर शादियों के आयोजन कर रहे हैं, प्रशासन की तमाम कोशिशों के बावजूद ग्रामीण ध्यान नहीं दे रहे है। इन सभी बातों का ही परिणाम हैं, कि नगरीय क्षेत्रों के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। हालांकि प्रशासन की टीम जिन स्थानों की सूचना मिल रही हैं, वहां पर पहुंचकर शादियों रुकवाने से लेकर कार्रवाई भी कर रही है। शनिवार को धार अनुभाग में लगातार तीसरे दिन कार्रवाई करते हुए शादी वाले घर प्रशासन की टीम पहुंची। पिछले तीन दिनों में प्रशासन की टीम ने धार क्षेत्र में ही चार शादियों के आयोजन रुकवाए व परिवार के लोगों को समझाईश देकर कोरोना गाईडलाईन के नियमों का पालन करने के लिए कहा गया।
बेटे व बेटी दोनों की थी शादी
धार अनुभाग के सागौर क्षेत्र अंतर्गत ग्राम आसुखेदी में रहने वाले साहेबसिंह रघुवंशी के घर में बेटे व बेटी दोनों की शादी थी, परिवार के लोगों को एक बारात लेकर जानी थी व दूसरी बारात शनिवार दोपहर तक घर आनी थी। ऐसे में दो शादी के आयोजन होने से बड़ी संख्या में यहां पर लोग एकत्रित होने थे। इस बात की सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची व परिवार के लोगों से चर्चा की गई। ग्राम आसुखेडी में श्री रघुवंशी के बेटे दिपक की शादी आनसुईया से व पुत्री संध्या की शादी शुभम से होनी थी, एसडीएम दिव्या पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि इनके यहां पर बारात क्षेत्र के ग्राम अकोलिया जानी थी। साथ ही बारात ग्राम बरदारी से आनी थी। इसकी सूचना मिलते ही राजस्व व पुलिस विभाग की संयुक्त टीम मौके पर पहुंची व पंचनामा बनाकर कार्रवाई की गई हैं, साथ ही कोरोना गाईड लाईन के प्रोटोकाल का पालन करने के लिए कहा गया है।


Share To:

Post A Comment: