*धार~इस बार समुद्र तट पर रहेगा रोहिणी का वास~डाँ. अशोक शास्त्री~~

          धार , मालवा के प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य डाँ. अशोक शास्त्री ने एक विशेष मुलाकात मे बताया की   सूर्य का रोहिणी नक्षत्र में गोचर 25 मई 2021 को दोपहर 01.46 बजे से प्रारंभ होगा । सूर्य लगभग प्रत्येक 15 दिनों में एक नक्षत्र का भोग कर लेता है लेकिन रोहिणी नक्षत्र में इसके भ्रमण को नौतपा कहा जाता है क्योंकिइस नक्षत्र में जब सूर्य आता है तो पृथ्वी के ताप में वृद्धि होती है । सूर्य रोहिणी नक्षत्र में 8 जून को दोपहर 12 : 40 बजे तक रहेगा। उसके बाद मृगशिरा नक्षत्र में प्रवेश कर जाएगा । इस संपूर्ण भ्रमणकाल के प्रारंभिक नौ दिन अत्यधिक गर्मी वाले रहते हैं इसलिए इसे नौतपा कहा जाता है । नक्षत्र मे खला की गणना के अनुसार इस बार रोहिणी का वास समुद्र तट पर रहेगा जो उत्तम वर्षा के योग बना रहा है ।
          सूर्य का रोहिणी नक्षत्र में परिभ्रमण काल 14 दिन का रहेगा । इनमें से पहले नौ दिन नौतपा कहलाते हैं । यह समय आगामी वर्षा ऋतु के चक्र को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है । डाँ. अशोक शास्त्री ने बताया की ज्योतिषीय गणना के अनुसार इस वर्ष मेष संक्रांति के प्रवेश समय पर चंद्रनक्षत्र भरणी होने से रोहिणी का वास समुद्र तट पर है - तटे वृष्टि सुशोभना: । रोहिणी का वास समुद्र तट पर तथा समय का वास रजक के घर होगा । यह स्थिति वर्षा ऋतु में उत्तम वृष्टि का संकेत दे रही है । इस बार 80 फीसद से अधिक बारिश होने के योग बन रहे हैं ।

*ऋतु चक्र दे रहा अच्छी बारिश के संकेत*
          ज्योतिषाचार्य डाँ. अशोक शास्त्री के मुताबिक इस बार वर्षा ऋतु का चक्र अलग - अलग प्रकार से अपनी स्थिति दर्शा रहा है । इसमें भारतीय ज्योतिष शास्त्र की गणना के मूल तत्व से संबंधित ऋतु चक्र के आधार पर क्रमश: नक्षत्र , मेघ व नाग इन तीनों का विशेष प्रभाव नजर आ रहा है । क्योंकि 27 नक्षत्रों में रोहिणी नक्षत्र का विशेष महत्व है । साथ ही नवधा मेघ व चतुर्धा मेघ तथा द्वादश नागों का अलग - अलग प्रकार के वर्ष अनुक्रम में स्थापित होना वर्षा ऋतु के चक्र को कम या अधिक करता है । संयोग से इस बार चतुर्धा मेघ में सम्वर्त मेघ का अनुक्रम आ रहा है , जो श्रेष्ठ वर्षा की ओर संकेत कर रहा है । साथ ही द्वादश नाग के अंतर्गत सुबुध्न अथवा सुबुद्घ नामक नाग की साक्षी अच्छी वृष्टि कराने में सक्षम है ।

                  *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
          श्रीमंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245 , एम. जी. रोड ( आनंद चौपाटी ) धार , एम. पी.
                  मो. नं.  9425491351

                 *--:  शुभम्  भवतु  :--*


Share To:

Post A Comment: