झाबुआ~आज विधिवत लोकापर्ण कर आम लोगो को दी गई ओवरब्रिज की सुविधा~~

ओवरब्रिज लोकापर्ण कार्यक्रम में पहुँचे जिले के प्रभारी मंत्री हरदीपसिंह डंग ~~

ओवरब्रिज की तारीफ में कहा इसे सुंदर बनाने के लिए किए जाएंगे प्रयास हरियाली के द्वारा~~

ओवरब्रिज का नाम अटल ब्रिज और चौराहे पर अटलजी की प्रतिमा स्थापित करने की बात कही...प्रभारी मंत्री हरदीपसिंह डंग~~

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025*~~

झाबुआ - लम्बे समय से बहु-प्रतीक्षित रेलवे ओवरब्रिज बिरज का शुभारंभ मध्यप्रदेश शासन के केबिनेट मंत्री हरदीप सिंह डंग ने पुजन अर्जन वह फीता काट कर किया। केन्द्र व राज्य सरकार की हिस्सेदारी से सहयोग से बने इस ओवरब्रिज से अब यातायात कि समस्या का निराकरण होगा। उक्त आयोजन शिलान्यास कार्यक्रम लोक निर्माण विभाग द्वारा आयोजित किया था। मुख्य अतिथि जिले के प्रभारी मंत्री हरदीपसिंह डंग एवं  कार्यक्रम के अध्यक्ष सांसद गुमान सिंह डामोर,विधायक वीरसिंह भूरिया सम्मानीय अतिथि में भाजपा की प्रदेश मंत्री सगीता सोनी,अजजा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह,भाबर, भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ओमप्रकाश शर्मा। भाजपा महामंत्री प्रफुल्ल गादिया,श्यामा ताहेड, मेघनगर मंडल अध्यक्ष सचिन प्रजापत आदि मचासीन रहे। अपने उद्बोधन में स्वागत भाषण देते हुए लक्ष्मण सिंह नायक जिलाध्यक्ष ने कहा अब समय वह ईंधन की बचत होगी। रेलवे फाटक की लबी लाईन से मुक्ति मिलेगी। विधायक वीर सिंह  भुरिया ने कांगेस की मनमोहन सरकार के समय लालू यादव के रेलमंत्री के दौरान इसके स्वीकृति की बात कही वह समय-समय पर इसकी लेट लतीफी पर मिडिया ने मामला उठाया जिससे ये अब लोकार्पण हुआ है। सांसद गुमान सिंह डामोर ने वीरसिह भुरिया से क्षमा याचना करते हुए पलट वाल किया कि नरेन्द्र मोदी सरकार व शिवराज सरकार के समन्वय सहयोग से ये ओवरब्रिज बना है। भाजपा विकास की और ध्यान देती है‌। करीब,97 पुल रेलवे व राज्य सरकार की ओर से स्वीकृत हुए हैं जिनमें सजेली व बामनिया भी है। मोदी जी व शिवराज जी की देन है ये विकास कार्य। कलसिंह भाबर ने कहा भाजपा सरकार सबका साथ सबका विकास की और अग्रसर है‌ रेलवे पुल की ओर स्व पूर्व सांसद दिलीप सिंह भुरिया ने भी पुरजोर वकालत की थी। अपने चिरपरिचित अंदाज में हास्य मिश्रीत चुटकी लेते हुए मंत्री जी डंग ने कहा मुझे दौनो ही और रहने का आनंद प्राप्त है। मैं हकीकत जानता हूं। आपने कहा ये जनता के लिए जोड़ने का काम करेंगे ‌पुल समन्वय का उदाहरण है। आपने कोराना काल में अथक सेवा के लिए प्रशासन मिडिया समाजसेवी संस्थाओं की सराहना की‌। इसे अटल ब्रिज नाम देने की भी बात हूई। मंत्री जी ने पुल के समीप मिडिया की विशेष मांग पर पर्यटन स्थल हेतु सहयोग का भी आश्वासन दिया। इस तरह 565 मीटर लबाव 12 मीटर चौड़ा ये पुल जनता के लिए सुगम हुआ इसकी लागत 47 करोड 58 लाख की है। संचालन हरिश कुंडल ने किया और आभार श्री शर्मा ने माना। कलेक्टर सोमेश मिश्रा। एसपी आषुतोष गुप्ता एसडीएम आकाश सिंह एसडीओ पी श्री एम एस गवली,मेघनगर थाना प्रभारी कैलाश चौहान, लोकनिर्माण नगरपरिषद स्थानीय क्षेत्रीय अधिकारी जनप्रतिनिधियों    सहित गणमान्य जन व मिडिया साथी भी उपस्थित थे


Share To:

Post A Comment: