धार~क्राईम ब्रांच धार एवं धार पुलिस ने को मिली सफलता~~

सोशल मीडिया पर इस्टाग्राम, फेसबुक व जीमेल आईडी हेक कर पैसो की धोखाधडी करने वाले एक आरोपी को पकड़ा~~

( धार से डाँ. अशोक शास्त्री )


 आरोपी ने दिनांक 19.06.2021 को धार महाजन रोड़ स्थित फैशन अड्डा संचालक की फेसबुक आईडी की थी हेक।
 सोशल मीडिया की आईडी हेक कर, संबंधित आईडी के फ्रेंड में मैसेज कर मांगता था रूपये।
 आरोपी ने अब तक धार की 02, इन्दौर के 03 व शाजापुर की 02 कुल 07 इस्टाग्राम, फेसबुक व जीमेल आईडी हेक करना कबूला है।
 आरोपी के कब्जे से 02 मोबाईल, 02 पेन ड्रायव जप्त, 01 एटीएम जप्त।
दिनांक 19.06.2021 को फरियादी मनोहर परिहार ने थाना कोतवाली धार आकर एक लेखीय शिकायती आवेदन प्रस्तुत किया, जिसमें फरियादी ने बताया कि उसकी महाजन रोड़ धार पर फैशन अड्डा नाम से दुकान है, किसी अज्ञात बदमाश ने फरियादी की इस्टाग्राम, फेसबुक व जीमेल आईडी हेक कर ली है तथा उसके परिचितो को मैसेज कर रूपयों की मांग की जा रही है। थाना कोतवाली पुलिस ने फरियादी के शिकायती आवेदन पत्र की प्राथमिक जांच करते सही पाए जाने से थाना कोतवाली धार में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध क्रमांक 396/21 दिनांक 25.06.2021 धारा 420, 419 भादवि व सूचना प्रोधोगिकी(संशोधन) अधिनियम की धारा 66 सी में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक धार श्री आदित्य प्रताप सिंह द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से हो रही आनलाईन धोखाधडी की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार श्री देवेन्द्र पाटीदार के नेतृत्व में नगर पुलिस अधीक्षक धार श्री देवेन्द्र धुर्वे, थाना प्रभारी नौगांव श्री आनंद तिवारी, थाना कोतवाली इंचार्ज रवि वास्के के साथ-साथ सायबर क्राईम ब्रांच प्रभारी संतोष कुमार पाण्डेय को आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर कार्यवाही हेतु लगाया गया था।
    
     क्राईम ब्रांच धार, थाना कोतवाली एवं थाना नौगांव पुलिस द्वारा संयुक्त कार्यवाही हेतु थाना कोतवाली में पंजीबद्ध अपराध क्रमांक 396/21 में फरियादी मनोहर के विस्तृत कथन लिए, जिसमें फरियादी ने बताया कि अज्ञात बदमाश मेरी फेसबुक आईडी से वर्तमान में भी मेरे दोस्तो को मैसेज कर पैसे मांग रहा है तथा पैसो को मोबाइल नम्बर 9754922536 पर फोन पे अथवा फोन पे न होने की स्थिति में खाता नम्बर 10014461830 आयएफएससी कोड ESHB0014018 में जमा करने हेतु बता रहा है।

      पुलिस टीम द्वारा जांच में आए मोबाइल नम्बर व खाता नम्बर की जांच करते उक्त खाता नम्बर शाजापुर के रहने वाले तात्या उर्फ राजकुमार पटेल के नाम पर होना पाया गया। तात्या उर्फ राजकुमार के संबंध में गोपनीय जानकारी लेते हुए टीम ने पाया कि वह मोबाइल की अच्छी जानकारी रखता है तथा वर्तमान में इन्दौर में निवास करता है। क्राईम ब्रांच धार, थाना नौगांव व थाना कोतवाली पुलिस द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया, जिसका पूरा नाम पता पूछते उसने अपना नाम तात्या उर्फ राजकुमार पिता लक्ष्मीनारायण मल्डावडिया जाति खाती पटेल उम्र 19 साल निवासी आठममाता मोहल्ला ग्राम मोहना थाना मोहन बडौदिया जिला शाजापुर हाल मुकाम हरिसिद्धी नगर थाना खजराना जिला इन्दौर बताया।
     
संयुक्त पुलिस टीम द्वारा तात्या से थाना कोतवाली के अपराध सदर में हिकमत-अमली से पूछताछ करने पर उसने बताया कि एंड्राईड मोबाइल गिर या गुम हो जाने की स्थिति में ’’लोस्ट आफ फोन एप्लीकेशन’’ के माध्यम से जीमेल आईडी नम्बर के जरिए मोबाइल की लोकेशन की जानकारी मिल सकती है। कभी-कभी व्यक्ति अपना मोबाइल नम्बर को अपनी जीमेल आईडी पासवर्ड रख लेते है।

       7-8 दिन पहले एक धार के निवासी मनोहर की जीमेल आईडी को मैंने हेक की थी, उन्होने अपना जीमेल पासवर्ड अपना मोबाइल नम्बर रखा था। मैंने उस जीमेल आईडी के जरिए उसका फेसबुक व इस्ट्राग्राम अकाउंड हेक कर उसका पासवर्ड 123456789 बना लिया था। फिर मैंने उस आईडी को अपने रियल मी 2 मोबाइल पर लागिन कर उसके फ्रेंड द्वारा भेजे गए पर्सनल मेसेज पढे तथा उसकी दोस्ती अनुसार उसके दोस्तो से मेसेज में 10-15 मिनिट नार्मल बाते की, जिससे सामने वाले दोस्त को ऐसा ही प्रतीत हुआ कि मेरे द्वारा हेक किए गए अकाउंट से फेसबुक आईडी वाला मनोहर ही बात कर रहा है। बातो बातो में मैंने, फेसबुक मैसेंजर वाले दोस्त को पैसो की तंगी बताकर उनसे 500 रू. अपने मोबाइल नम्बर 9754922536 पर फोन पे करने को कहाँ था, परंतु शायद फेसबुक हेक होने की सूचना उन्हे मिल गई थी, तो मुझे कोई पैसा नही मिला था।

       विगत 3-4 माह में मैंने धार बरमंडल के 01 व्यक्ति, इन्दौर के 03 व्यक्ति व शाजापुर के 02 व्यक्ति की फेसबुक व इस्टाग्राम आईडी हेक की है तथा उनके फ्रेंड सर्कल से मुझे करीब 30,000-40,000/- रू. धोखाधडी में मिले थे, जो मैंने अपने फोन पे अकाउंट नम्बर 9754922536 पर जमा करवाए है।

       पुलिस टीम द्वारा आरोपी के कब्जे से धोखाधडी में प्रयुक्त 01 मोबाइल, 02 सिम कार्ड, 01 एटीएम कार्ड जप्त कर लिए है। एटीएम कार्ड के अकाउंट नम्बर में लेन-देन स्टेटमेंट के आधार पर अन्य व्यक्तियों से संपर्क किया जा रहा है, जिनके साथ आरोपी ने धोखाधडी की है। जानकारी मिलने पर पुलिस टीम द्वारा संबंधित पुलिस थानों को भी आरोपी के संबंध में सूचना दी जावेगी।

       आरोपी राजकुमार को पकड़ने में क्राईम ब्रांच धार प्रभारी संतोष कुमार पाण्डेय, उनि धीरज सिंह राठौर, सउनि रामसिंह गौर, प्रआर. गुलसिंह, प्रआर. राजेश, आर. बलराम, आर. माधवसिंह, आर. राहुल, आर. संग्राम, सायबर शाखा धार से आर. प्रशांत, आर. विवेक एवं थाना प्रभारी नौगांव श्री आनंद तिवारी, सउनि भेरूसिंह देवड़ा, थाना इंचार्ज कोतवाली श्री रवि वास्के की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।


Share To:

Post A Comment: