बाकानेर~भगवान बिरसा मुंडा जी का शहादत दिवस बड़े धूम-धाम से मनाया~~

बाकानेर (सैयद अखलाक अली )

भगवान बिरसा मुंडा जी का शहादत दिवस मनाया गया.धार जिले के धरमपुरी तहसील के ग्राम पिपलिया खूंट में बिरसा मुंडा जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर आदिवासी समाज के लिए जो कार्य किये उन्हें स्मरण किया गया। जयस प्रदेश अध्यक्ष लालसिंह बर्मन के द्वारा बताया गया की भगवान बिरसा मुंडा ने मात्र 25वर्ष की उम्र में है अंग्रेजो की नाक में दम कर दिया। अंग्रेजो के क़ानून, लगान, का बिरसा मुंडा जी ने पुरजोर विरोध किया एवं आदिवासियों को लगान  नहीं भरने दिया. अंग्रेजो के खिलाफ उलगुलान जारी कर दिया जिससे अंग्रेज शासन घबरा गए और उन्होंने बिरसा मुंडा जी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और उन्हें धीमा जहर देकर मरवा दिया गया बिरसा मुंडा की शिक्षा ईसाई धर्म से प्राप्त की पर ज़ब वह समझदार हुवे तो जो ईसाई मिशिनरी को मंशा समझने के बाद उन्होंने ईसाई धर्म को त्याग दिया। उनके त्याग एवं बलिदान को पूरा देश एवं आदिवासी समाज जीवन पर्यन्त याद रखेंगे. इस उपलक्ष्य पर कैलाश राणा,शरद कनेल, बंशीलाल बेनर,मांगीलाल भाई जयस अध्यक्ष पिपलिया खूंट,  एवं पिपलिया खूंट के जयस साथी लखन,सखाराम, नरेंद्र,कालु,रवि, राजेंद्र,काना,लिपट,गोलू,लोकेशंस,मंसाराम, गोविंद, राजेश,प्रविण,अजय, संजय, सोहन,सुनिल, राहुल, अरविंद, एवं जयस टीम मनावर व समस्तआदिवासी समाज जन उपस्थित हुवे।


Share To:

Post A Comment: