।।  *सुप्रभातम्*  ।।
                ।।  *संस्था  जय  हो*  ।।
        ।।  *दैनिक  राशि  -  फल*  ।।
        आज दिनांक 17 जुलाई 2021 शनिवार संवत् 2078 मास आषाढ शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि मध्य रात्रि पश्चात् 02:42 बजे तक रहेगी फिर नवमी तिथि आरंभ होगी । आज सूर्योदय प्रातःकाल 05:55 बजे एवं सूर्यास्त सायं 07:09 बजे होगा ।चित्रा नक्षत्र मध्य रात्रि पश्चात् 01:32 बजे रहेगा पश्चात् स्वाति नक्षत्र आरंभ होगा  । आज का चंद्रमा कन्या राशि मे दोपहर 02:07 बजे तक भ्रमण करते हुए तुला राशि मे प्रवेश करेंगे । आज का राहुकाल प्रातः 09:13 से 10:51 बजे तक रहेगा । अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12:03 से 12:57 बजे तक रहेगा । दिशाशूल पूर्व दिशा मे रहेगा यदि आवश्यक हो तो उडद का सेवन कर यात्रा आरंभ करे ।। जय हो  ।।

                  *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
          श्रीमंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245 , एम. जी. रोड ( आनंद चौपाटी ) धार , एम. पी.
                  मो. नं.  9425491351

                    *आज का राशिफल*

          मेष :~ आज व्यापारियों के लिए लाभदायक है । पारिवारिक वातावरण भी मन को प्रफुल्लित रखने में सहायता करेगा । घर में सुखदायी घटना घटेगी । शारीरिक स्वास्थ्य में वृद्धि होगी । सहयोगियों का सहयोग मिलेगा । सामाजिक क्षेत्र मे यशकीर्ति मिलेगी । व्यापार में भागीदारों स सम्बंध अच्छे रहेंगे ।

          वृषभ :~ आप आज बौद्धिक चर्चाओं से दूर रहे । विद्यार्थियों के लिए समय कठिन है । मानसिक चिंता रहेगी । पेट रोग की  भी चिंता रहेगी , परंतु मध्याहन के बाद रोग में राहत मिलेगी । मानसिक रूप से भी तंग स्थिति से राहत मिलेगी । आप के कार्य की प्रशंसा होगी जिससे आनंद होगा ।

          मिथुन :~ आज आप में स्फूर्ति नही रहेगी । पारिवार में तूतू - मैंमैं हो सकती है । स्थाई संपत्ति के विषय में सावधानी रखे । आकस्मिक खर्च हो सकता है । उग्रतापूर्ण बौद्धिक चर्चा में भाग न ले ।

          कर्क :~ आप आज किसी भी कार्य को अविचारितापूर्वक नही करे । स्वजनों की भेंट से उनसे प्रेमपूर्ण सम्बंधों से आनंद में वृद्धि होगी । प्रतिस्पर्धीयों के सामने टिके रहे । मध्याहन के बाद कुछ प्रतिकूलता रहेगी । शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दे ।  आर्थिक कष्ट हो सकता है ।

          सिंह :~ आज आप बौद्धिक चर्चा में भाग ले सकते हैं परंतु वाद - विवाद टाले । पारिवारिक सदस्यों के साथ अच्छा समय बीतेगा । आर्थिक लाभ हो सकता है । परंतु मध्याहन के बाद संभलकर चले । भाईयों से लाभ होगा । आध्यात्मिक क्षेत्र में सिद्धि प्राप्त होगी ।

          कन्या :~ आज आप की वाणी के प्रभाव से स्वयं को ही लाभ होगा । इससे अन्य लोगों के सम्बन्धों में प्रेम की वृद्धि होगी । पर्यटन आनंददायी रहेगा । व्यावसाय में भी लाभ होगा । पारिवारिक वातावरण आनंदमय रहेगा । आर्थिक लाभ होगा । विदेश के साथ व्यापार में सफलता के साथ - साथ लाभ भी मिलेगा ।

          तुला :~ आज आप क्रोध को वश में रखकर स्वभाव को मृदु बनाए । वाणी पर संयम से वातावरण को शांत रखने में सफल हो सकते हैं । निर्णयों को सोच - समझकर करे । भ्रांति हो तो दूर करे । खर्च अधिक होगा । शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य बिगड सकता है ।

          वृश्चिक :~ आज आपकी आय और व्यापार में वृद्धि हो सकती हैं । मित्रों के साथ प्रवास मे समय काफी आनंदपूर्वक बितेगा । परंतु मध्याहन के बाद स्वभाव में क्रोध और उग्रता बढेगी । इसलिए किसी से भी उग्र व्यवहार न करे । मित्रों की अनबन से मानसिक अस्वस्थ हो सकते हैं ।

          धनु :~ आज आपकी कार्य की योजनाएँ अच्छी तरह से पूर्ण होगी। व्यवसाय मे भी सफल होंगे । कार्यालय में वातावरण अनुकूल रहेगा । परिश्रम के अपेक्षानुसार पद में भी उन्नति होगी । परिवार में आनंद - उल्लास रहेगा । मित्रों की भेंट से मन प्रफुल्लित रहेगा । आज का दिन धन के लाभ के लिए शुभ है । संतान के विषय में शुभ समाचार मिलेंगे ।

          मकर :~ आज विदेश जाने के इच्छुक लोगों के लिए संभावनाएँ है । धार्मिक यात्रा से धर्मिष्ठता की अनुभूती करेंगे । पारिवारिक आनंद - उल्लास का माहौल रहेगा । व्यावसाय में पदोन्नति होगी । उच्च अधिकारी कार्य से प्रसन्न होंगे । धन के साथ - साथ मान - सन्मान की वृद्धि होगी । पिता से लाभ होगा ।

          कुंभ :~ आप आज नए कार्य का प्रारंभ न करे । स्वास्थ्य के लिए खान - पान में ध्यान रखे । वाणी पर संयम रखने से किसी से उग्र चर्चा अथवा मनमुटाव को टाल सकेंगे । मध्याहन के बाद प्रसन्नता में वृद्धि होगी । स्वास्थ्य में भी सुधार होगा ।आर्थिक लाभ होगा ।

          आज आपको  व्यापार में भागीदारी से लाभ होगा । किसी मनोरंजन स्थल पर स्नेहीजनों के साथ मनाने से मन प्रसन्नचित्त रहेगा । परंतु मध्याहन के बाद परिस्थिति में परिवर्तन होगा । मध्याहन के बाद नए कार्य प्रारंभ न करे । प्रवास को टाले । क्रोध पर संयम रखे । पारिवारिक तकरार हो सकती है । ( डाँ. अशोक शास्त्री )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री  कृष्ण  ।।  जय  गुरुदेव  ।।


Share To:

Post A Comment: