खिलेडी~~जिम्मेदारो की उदासीनत खिलेडी की जनता पर पड़ रही भारी~~

स्वास्थ्य विभाग और पंचायत एक दूसरे की कमियों पर फोड़ रहे ठीकरे~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

बीमारी के इस दौर में एक ओर जहां केंद्र और राज्य सरकार हर सम्भव प्रयास कर जन जीवन को बचाने में लगी है वही धार जिले के बदनावर स्वास्थ्य विभाग का लचीलापन आम जन के लिए मुसीबत बनता जा रहा है।

*मामला कुछ इस प्रकार है*

जनपद बदनावर के ग्राम खिलेड़ी में विगत पखवाड़े से डेंगु के मरीज मिलने पर विचार न्यूज के द्वारा प्रमुखता से खबर प्रकाशित की गई थी जिस पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने खाना पूर्ति के रूप में जांच आदि की वही स्थानीय पंचायत ने नाम मात्र दिखावे के लिए डेंगु से पीड़ित मरीज के घरों के आसपास व नाली मे मच्छर के कीटनाशक का छिड़काव किया लेकिन इन दोनो विभागों के लचीलेपन के कारण नतीजा यह है कि शुरुआती दौर में एक दो डेंगु के मरीज थे लेकिन अब वर्तमान में करीब 30 से 40 डेंगू के मरीज खिलेड़ी गांव में बीमारी से जूझ रहे है जिसमे किसी का इलाज दसाई तो किसी का इलाज धार जिला मुख्यालय पर निजी अस्पताल तो कई गम्भीर मरीज इंदौर के निजी हॉस्पिटल में इलाज करवा चुके है। लेकिन आज एक दो माह बीत जाने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग ओर पंचायत खिलेड़ी का जनजीवन के प्रति सक्रिय न होना बडी चुनोती को जन्म दे सकता है जिससे गांव के आमजन परेशानी का सामना करते जा रहे है।

वही अनिल पाटीदार, दशरथ पाटीदार, राधेश्याम कलावत, महेश सांकरिया आदि का कहना है कि अगर स्वास्थ्य विभाग की टीम डेंगु की दवाई का वितरण करे और पंचायत कर्तव्यों का पालन करते हुए स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर डेंगु मच्छरों की दवाई का छिटकाव करे तो खिलेड़ी गांव में मरीजों की संख्या में गिरावट आ सकती है।


Share To:

Post A Comment: