धार~आईजी ने किया पुलिस चिकित्सालय का उद्घाटन, कहा- सकारात्मक विचार हो तो बेहतर तरीके से काम किया जा सकता है~~

थाना प्रभारियों को मिले आईएसओ अवार्ड~~

धार ( डाँ. अशोक शास्त्री )

इंदौर जोनल आईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने आज धार के डीआरपी लाइन में पुलिस चिकित्सालय का उद्घाटन कर परिसर का अवलोकन किया, साथ ही उन्होंने यहां वृक्षारोपण भी किया। इसके पश्चात वे डीआरपी लाइन में आयोजित आईएसओ सर्टिफिकेशन अवार्ड समारोह में सम्मिलित भी हुए। कलेक्टर आलोक कुमार सिंह, कमांडेन्ट तुषार कांत विद्यार्थी, पुलिस अधीक्षक आदित्यप्रताप सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पाटीदार भी साथ मौजूद थे।

ज्ञात हो कि यह अस्पताल जो कि वर्ष 1963 में निर्मित होकर जीर्ण शीर्ण व खंडर अवस्था में था। कोविड 19 की प्रथम एवं द्वितीय लहर एवं भविष्य में कोरणा के खतरे को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक आदितत्य प्रताप सिंह एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पाटीदार के मार्गदर्शन में रक्षित निरीक्षक अरविंद दांगी एवं उनकी टीम द्वारा पुलिस लाइन स्थित चिकित्सालय में टाइल्स, रूफ सीलिंग, दरवाजे व खिड़कियों की मरम्मत, पेंट इत्यादि कर रेनोवेशन कार्य के द्वारा इसे नवीन स्वरूप प्रदान किया गया, साथ ही इसमे 10 बेड की व्यवस्था कराई गई, जिसमें 4 ऑक्सीजन सुविधा युक्त एवं 6 सामान्य बेड है। इसके अलावा ऑक्सीजन सिलेंडर, कंसेंट्रेटर, कोरोना से संबंधित दवाइयां व उपकरण, पैथोलॉजी लैब, डॉक्टर व नर्स भी मरीज की देखरेख व इलाज के लिए यहां उपलब्ध रहेंगे। यह सुविधा पूरे जिले के अधिकारी /कर्मचारी को सुलभ इलाज आसानी से किया जा सके, साथ ही पुलिस कर्मच्चरियो एवं परिवारजननो के लिए फिजियोथेरापी सेंटर का भी शुभारम्भ किया गया।

डीआरपी लाइन में आयोजित आईएसओ अवार्ड कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के समक्ष द्वीप प्रज्वलित व माल्यार्पण कर किया गया तत्पश्चात उपस्थित अतिथियों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय, रक्षित निरीक्षक कार्यालय नोगांव थाना, कुक्षी थाना, सागोर थाना तथा कानवन थाना के प्रभारियों को आईएसओ सर्टीफिकेट प्रदान किए तथा आईएसओ सर्टिफाइड कार्यालय में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी /कर्मचारी को प्रशंसा प्रमाण पत्रउत्साहवर्धन हेतु वितरित किये गए।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए आईजी श्री मिश्र ने पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह एवं उनकी टीम की तारीफ करते हुए कहा कि बेहतर सकारात्मक परिवेश होता है, सकारात्मक विचार हो तो बेहतर तरीके से काम किया जा सकता है, उन्होंने अपराध नियंत्रण पर कंट्रोल के लिए पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह तथा कोविड की चुनोतियों से बेहतर तरीके से निपटने के लिए कलेक्टर आलोक कुमार सिंह की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि आज मुख्य तौर पर धार में पुरानी आधारभूत संरचनाएं थी, आमतौर पर जो इंफ्रास्ट्रक्चर था उसको बहुत कम संसाधनों के बल पर बेहतर ढंग से आई एस ओ सर्टिफिकेशन किया गया है, सर्टिफिकेशन महत्वपूर्ण नहीं है उसके पीछे की जो सकारात्मकता है माहौल, एक बेहतर कार्य स्थल जिस तरीके से विकसित हुआ है वह निश्चित तौर पर हमारे जवानों को एक सकारात्मक ऊर्जा के साथ ज्यादा बेहतर काम करने में मददगार साबित होगा, खास बात यह है कि इसके लिए आर्थिक संसाधनों का बहुत ज्यादा प्रयोग नहीं हुआ है उपलब्ध संसाधनों में बेहतर नियोजन से यह संभव हुआ है, साथ ही साथ इसमें धार पुलिस ने और भी कई मुख्य तौर पर कई अपराधिक गैंग पर प्रभावी नियंत्रण किया है जिसके लिए कप्तान की पूरी टीम को बधाई है, इस तरह के प्रयोग को इस तरह के सकारात्मक प्रयोग से पुलिस का मनोबल जो है बेहतर, मजबूत रहता है। उन्होंने कहा की ड्रग्स को लेकर पुलिस ने पहले भी कई व्यापक कार्रवाई की है पिछले दिनों इस तरह की एक व्यापक गैंग को तोड़ा गया था जिनके तीन चार राज्यों में अलग-अलग विस्तार था उसमे लगभग तीन दर्जन आरोपियों को पकड़ा गया था उससे जुड़े हुए हर व्यक्ति को जो देश के किसी भी कोने में हो पकड़ा था। मुख्य तौर पर ड्रग्स को लेकर ज्यादा युवाओं में कोई चीज घातक है तो ड्रग्स है उसको लेकर के पुलिस पूरी तरीके से जीरो टॉलरेंस पर काम कर रही है जगह जगह हर जिलों में इस तरह की गतिविधियों की सूचना मिलने पर पुलिस ने एक बेहतर नेटवर्क बेहतर समन्वय साथ ही आक्रामकता के साथ कार्रवाई सुनिश्चित की है। कार्यक्रम को कलेक्टर आलोक कुमार सिंह, कमांडेन्ट तुषार कांत विद्यार्थी तथा पुलिस अधीक्षक आदित्यप्रताप सिंह ने भी सम्बोधित किया।


Share To:

Post A Comment: