धार~पीएम आवास,स्वच्छता अभियान सहित दीगर योजनाओं की प्रगति बरकरार रहे-कलेक्टर श्री सिंह~~

ग्रामीण विकास के लिए जुटे अमले की कलेक्टर श्री सिंह ने पीठ थपथपाई~~

धार ( डाँ. अशोक शास्त्री )

हमारा जिला पीएम आवास योजना में प्रदेश में अव्वल स्थान पर है। इसके साथ ही स्वच्छ भारत मिशन में भी बहुत अच्छा कार्य हुआ है । हमें अपनी प्रगति को सभी योजनाओं में इसी प्रकार बनाए रखना है। ग्रामीण विकास में जुटा अमला इसके लिए बधाई का पात्र है। यह बात कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित ग्रामीण विकास विभाग की बैठक के दौरान अधिकारियों से कही। उन्होने कहा कि हमे पीएम आवास में लगातार माॅनीटरिंग करना है। हैंड होल्डींग कर इस कार्य को करें।  मैदानी अमले के साथ जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गण अपने काॅर्डिनेशन को बढ़ाए। इसके लिए एक सप्ताह में प्लान बना ले और अगले दो माह  में गंभीर प्रयास कर सभी कार्य पूर्ण करें। उन्होने कहा कि पीएम आवास में जिन क्षेत्रों में सेन्टरिंग की कमी के कारण कार्य में रूकावट आ रही है,वहाॅ प्रयास कर स्वसहायता समूह से उपलब्ध कराए जिससे समूह की आमदनी भी बढ़े। उन्होने कैच द रैन अभियान की समीक्षा  करते हुए कहा कि प्लांटेषन में 25 प्रतिषत नीम का उपयोग करें। निम्बोली बेच कर लोगो की आमदनी भी होती है।  इसके साथ जहाॅ पर्याप्त जगह उपलब्ध है वहाॅ कुंदा घास भी अधिक से अधिक  लागाए। उन्होने कहा कि सारे पुराने कामों को पूर्ण करें। आरईएस के काम को क्रास चैक किया जाए । सभी वाॅटर स्ट्रक्चर समय से पहले ठीक कर लें।
      उन्होने कहा कि रूफ टाप रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग में सभी जनपद सीईओ निसरपुर के देशवालियाॅ के स्कूल जैसा सिस्टम तैयार करंे। अपने जनपद में एक विद्यालय  का चयन कर उसे उत्कृष्ट माॅडल के रूप में बनाए। परकोलेशन तालाब, खेत तालाब में साईट का चुनाव सही किया जाए। जिससे बाद में किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पडे। उन्होने जनपद सीईओ को निर्देश दिए कि सभी पंचायत भवन में उसके खुलने का दिन, समय तथा उपस्थित रहने वाले पंचायत कर्मी का नाम व मोबाईन नंबर अंकित किया जाए। सभी जनपदों में जहाॅ स्कूलों में बांउण्डीवाल की आवष्यकता है वहाॅ उनको बनवाए। साथ ही जहाॅ वाॅल  बन चुकी है उन पर स्वच्छता की अच्छी पेंटिग व संदेश लिखवाकर  अगले 15 दिन में अवगत करावे। स्कूल डायनिंग को स्कूल के प्रथक कमरे में बनाया  जाए,जिससे अध्यापन कार्य में बाधा उत्पन्न न हो। सभी जनपद में पोषण वाटिका में पौधे की उपलब्धता नहीं उस क्षेत्र की आवष्यकता के हिसाब से पौध लगाए जाए। जिससे उनका पोषण के लिए बेहतर उपयोग हो सके। सभी यह प्रयास करें कि जिले में कही भी कोई गौशाला खाली  न रहे। उनके पास चरागाह की उचित व्यवस्था की जाए। प्लांटेशन के लिए वन विभाग से पौधारोपण का माॅडयूल लेकर हर पंचायत में भिजवाया जाए। साथ ही हर जनपद में दो व्यक्तियों को पौधारोपण की ट्रेडिंग दी जाए। घरेलु किचन में लेमन ग्रास, पौदिना, अदरक , हल्दी जैसे प्रतिदिन उपयोग में आने वाले पौधे लगाए। खेले मैदान के ट्रेक को ठीक प्रकार से बनाया जाए जिससे बच्चो को चोट न लगे।
     जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आशीष वशिष्ठ ने बैठक में बताया कि आवास समय पर पूर्ण किये जाने हेतु किये गये प्रयास वर्ष 2020-21 में स्वीकृत आवासों में से ऐसी ग्राम पंचायतें जिनमें 100 से अधिक का लक्ष्य है। उन 62 ग्राम पंचायतों को चिन्हित किया गया। इन 62 ग्राम पंचायतों में 9606 आवास निर्माण का लक्ष्य है, जो कि कुल लक्ष्य का 45 प्रतिशत है। इसी प्रकार वर्ष 2019-20 के अपूर्ण आवासों में से ऐसी ग्राम पंचायतें जिनमें 10 से अधिक आवास अपूर्ण है, उन 80 ग्राम पंचायतों को चिन्हित किया गया। मार्निंग फॉलोअप में मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं सहायक यंत्री जनपद पंचायत साथ में तथा उपयंत्री एवं सहायक विकास विस्तार अधिकारी/पंचायत समन्वय अधिकारी अपने क्लस्टर की ग्राम पंचायतों में मार्निंग फॉलोअप कर रहे है।  बैठक में बताया गया कि जिले में आंगनवाडी भवन निर्माण कार्य में 57 कार्य स्वीकृत है जिनमें से 33 कार्य पूर्ण हो चूके है 24 प्रगतिरत है। स्कूल बाउन्ड्रीवाल  में 486 स्वीकृत, 28 पूर्ण तथा 169 प्रगतिरत, खेले मैदान में 53 स्वीकृत , 23 पूर्ण  तथा 24 प्रगतिरत है।
  बैठक में आरईएस के कार्यपालन अभियंताओं सहित सभी जनपद के सीईओ सहित अन्य अधिकारी मौजद थे।


Share To:

Post A Comment: