धार~आयुष मलेरिया अभियान 2021
जिले के मलेरिया उच्च जोखिम वाले ब्लॉकों में दो चरणों में होम्योपैथिक औषधि का वितरण कराया जाएगा~~

धार ( डाँ. अशोक शास्त्री )

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश में रोगों की रोकथाम के लिए प्रतिरोधक औषधियों का वितरण किया जावेगा। आयुष विभाग के द्वारा 2016 से 2020 तक मलेरिया प्रभावित जिलों में मलेरिया प्रतिरोधक होम्योपैथिक औषधि मलेरिया ऑफ 200 का वितरण कर सेवन कराये जाकर मलेरिया रोग की रोकथाम के सफल प्रयास किये गए है। इनके उत्साहवर्धक परिणाम  प्राप्त हुए, इन्हीं  परिणामो  को  दृष्टिगत रखते हुए ‘‘आयुष मलेरिया अभियान 2021’’ का धार जिले में कलेक्टर आलोक कुमार सिंह एवं जिला आयुष अधिकारी डॉ हंसा बारिया के मार्गदर्शन में आयुष विभाग, स्वास्थ विभाग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से जिले के मलेरिया उच्च जोखिम वाले ब्लॉक सरदारपुर, बाग, कुक्षी, मनावर, गंधवानी, बाकानेर, निसरपुर, तिरला, नालछा, धामनोद, तीसगांव, बदनावर  के  56 गांवों के अंदर कुल 81 हजार 140 लोगों को लाभान्वित किया जायेगा।
  प्रथम चरण 10 अगस्त, 17 अगस्तएवं 24 अगस्त तथा द्वितीय चरण 7 सितंबर, 14 सितंबर, 21 सितंबर  को होम्योपैथिक औषधि मलेरिया आँफ 200 की कुल 6 ख़ुराक का वितरण  आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से घर घर जाकर वितरण किया जायेगा। इस अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए होम्योपैथिक चिकित्सक एवं आयुष चिकित्सक, पैरामेडिकल स्टॉफ को फील्ड में लगाया जा रहा है,।
        होम्योपैथीक प्रिवेंटिव औषधि सेवन के साथ-साथ विभिन्न सावधानी बरतनी चाहिए, इनमें अपने घर मे नियमित रूप से साफ सफाई स्वच्छता,  गमले, मटके, कुलर में एकत्रित पानी को खाली करे, गड्डे में एकत्रित पानी मे  काला आयल, घासलेट डाल कर,गड्डो को भर कर जल जमाव ना होने दे,  मच्छरदानी का उपयोग कर,  फूल स्लीव्स के कपड़े पहनकर सिंग्नल युज प्लास्टिक आईटम्स, डीसपोजल आइटम का निष्पादन उचित तरीके से कर  मौसमी बीमारी मलेरिया से अपना बचाव कर सकते है।


Share To:

Post A Comment: