झाबुआ~सरकारी किताबों की एप से ट्रेकिंग ताकि हर बच्चे तक पहुंच-बांटेंगे शिक्षक घर-घर जाकर बच्चों को किताबें ~~



झाबुआसंजय जैन~~

सरकारी स्कूलों की कक्षा 1 से 8 तक के विद्यार्थियों को निशुल्क पाठ्यपुस्तकों का वितरण होगा। पहली बार राज्य शिक्षा केंद्र ने पाठ्य पुस्तकों की ट्रेकिंग के लिए एप तैयार किया है। एप के माध्यम से ही बीआरसी और फिर संकुल केंद्र के शिक्षक पुस्तकें रिसीव करेंगे। बीआरसी कार्यालय तक पुस्तकें पहुंच चुकी हैं और यहां से संकुलवार बंडल तैयार कर इन्हें स्कूलों तक पहुंचाने का काम चल रहा है।






बांटेंगे शिक्षक घर-घर जाकर बच्चों को किताबें .......
 कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते फिलहाल प्राइमरी और मिडिल स्कूल बंद हैं, लेकिन ऑनलाइन क्लासेस चल रही हैं। जिन पालकों के पास मोबाइल नहीं है, उनके लिए मेंटर्स नियुक्त किए हैं। हालांकि किताबें संकुल से स्कूल पहुंचने के बाद शिक्षक घर-घर जाकर बच्चों को यह किताबें बांटेंगे।






ऐसे काम करेगा एप.....
शिक्षा केंद्र से ब्लॉक मुख्यालय पर पहुंचने पर बीआरसी एप के माध्यम से पुस्तकों की सूची देखकर इसे रिसीव करेंगे। बीआरसी संकुलों को पुस्तकें डिस्पेच करने की जानकारी अपडेट करेंगे। प्रधान पाठक भी बीआरसी की तरह एप के माध्यम से ही पुस्तकें रिसीव करेंगे। प्रधान पाठक को पुस्तकें रिसीव करने के लिए स्कूल के 500 मीटर के रेडियस में होना जरूरी है। स्कूल में नहीं होने पर पुस्तकें रिसीव नहीं हो पाएंगी। पुस्तकों की संख्या में अंतर होने या बंडल कटे-फटे होने पर एप के माध्यम से संख्या को एडिट भी किया जा सकेगा। पुस्तकें लेने के बाद जीयो टैग से पुस्तक के बंडल के फोटो लेना होगी।






हमारा घर, हमारा विद्यालय से पढ़ाई......
बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो इसलिए इस बार कक्षा दूसरी तक के बच्चों को हिंदी, गणित व अंग्रेजी विषय की पुस्तकें दी जाएंगी, जबकि कक्षा तीसरी से 5वीं तक के लिए 4 और मावि के बच्चों के लिए 8 विषयों की पुस्तकें वितरित की जाएंगी। यदि बच्चों के पास अभ्यास पुस्तिकाएं हों तो पढ़ाई आसान हो जाती है। इसके लिए शासन ने हमारा घर हमारा विद्यालय अभियान शुरू किया है।






किस कक्षा के लिए कौन-से विषय की किताब..?
कक्षा 1 से दूसरी तक -हिंदी, गणित व अंग्रेजी।
कक्षा 3री से 5वीं तक -हिंदी, गणित, अंग्रेजी व पर्यावरण।
कक्षा 6टी से 8वीं तक-हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत, गणित, विज्ञान, भूगोल, इतिहास, सहायक वाचन




Share To:

Post A Comment: