धार~मंत्री उषा ठाकुर ने डेढ़ करोड़ की लागत से मेघनाद घाट पर पर्यटन विभाग द्वारा कराए कार्यो का किया लोकार्पण~~

धार ( डाँ. अशोक शास्त्री )

विकास की राह चलती रहना चाहिए तभी विकास होगा पर्यटन के साथ रोजगार के साधन भी बढ़ेंगे इसके लिए सरकार हर सभव प्रयास कर रही है।उक्त बात प्रदेश की पर्यटन, संस्कृति, अध्यात्म विभाग मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने आज कुक्षी तहसील के नर्मदा किनारे बसे मेघनाद घाट पर मध्यप्रदेश पर्यटन विभाग द्वारा करीब डेढ़ करोड़ की लागत से कराए गए सर्वसुविधायुक्त हाल, डे शेल्टर होम, बाउंड्रीवाल, घाट पर रेलिंग आदि कार्यो का लोकार्पण किया। इसी के साथ यह नर्मदा किनारे पहाड़ियों की गोद मे बसा मेघनाद धाम धार्मिक स्थल के साथ अब पर्यटन के लिए भी जाना जाएगा। इस अवसर पर  विधायक सुरेंद्र सिंह बघेल,पूर्व मंत्री रंजना बधेल,जयदीप पटेल,मुकाम सिंह किराड़े ,वीरेन्द्र सिंह बधेल,कलेक्टर आलोक कुमार सिंह आदि मौजूद थे।

मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि वर्षो पहले इस क्षेत्र के लोगो ने जो सपना देखा वह साकार हो रहा है। यह लोकतंत्र की खूबसूरती है कि कार्य स्वीकृत कोई करे और लोकार्पित कोई और। पर यह विकास का चक्र है, निरंतर चलता रहे,नागरिकों को सुविधा सदैव मिलती रहे,यह हम सभी जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारी है। मेघनाद घाट दधीचि जी की  पावन भूमि है।हम सब जानते हैं कि महर्षि ने अपनी अस्थियों का दान आसुरी शक्तियों के नाश के लिए किया था।उनकी हड्डियों से वज्र का निर्माण हुआ था। ऐसे महान तपस्वी की यह तपोस्थली है ।यहां बहुत घार्मिक आयोजन होते रहते हैं ।पर्यटन विभाग द्वारा कोशिश है कि यहां लोगों की जरूरतों को पूरा किया जाए और जैसा पर्यटन विभाग का मुख्य उद्देश्य है कि स्थानीय लोगों का रोजगार भी मिले,यह उद्देश्य भी पूरा हो । उन्होने कहा कि मेरी जिला प्रशासन से भी अपेक्षा है कि यहां स्व सहायता समूह का गठन करें।जो कि वोटिंग आदि गतिविधियों से आय अर्जित कर सके ।यही के भाई बहनों को उसका लाभ मिले। आग्रह किया कि मोटर बोट के बजाय इको फ्रेंडली चप्पू वाली नाव का प्रयोग किया जाए। विधायक श्री बघेल ने कहा कि क्षेत्र में अच्छे पर्यटक स्थल बनने की सारी खूबियां हैं।क्षेत्र के लोगों के पुरानी मांग आज पूरी हुई है। खुशी की बात है कि आज बड़ी बहन मंत्री उषा ठाकुर द्वारा इन कार्यों का लोकार्पण किया गया जिसकी शुरुआत मेरे द्वारा की गई थी। आरंभ में मंत्री जी ने मां नर्मदा की पूजा अर्चना की और निर्मित कार्यों का अवलोकन किया


Share To:

Post A Comment: