इंदौर~बजट नहीं होने के चलते ली थी डेमो व्हीकल्स
कंपनी की जांच में हुआ खुलासा~~

कस्टमर तिवारी को हुआ चार लाख का फायदा
आनंद निशान के पास दस्तावेज मौजूद, अब कानूनी कार्यवाही की ओर विचार ~~

इंदौर ( डाँ. अशोक शास्त्री )

आनंद निशान कंपनी के बारे में गत दिनों प्रकाशित हुई खबर के बाद कंपनी के द्वारा तुरंत ही मामले में संज्ञान लेते हुए जांच शुरु की गई, कंपनी के जांच में इस बात का खुलासा हुआ कि कस्टमर श्रेय तिवारी के द्वारा ही डेमो व्हीकल्स खरीदी गई थी। जबकि इस बारे में शोरुम पर काम करने वाले कर्मचारी ने उन्हें डेमो व्हीकल्स के बारे में जानकारी दी थी। NISSAN KICKS लेने पर कस्टमर तिवारी को चार लाख रुपए का फायदा भी हुआ था, ऐसे में जांच में प्रकाशित हुई खबर झूठी साबित हुई। तथा कस्टमर तिवारी द्वारा उक्त गाडी को अपनी स्वेच्छा से खरीदा था, इसका प्रमाण भी आनंद निशान के पास मौजूद है।
नई गाडी का दिया क्वोटेशन, किंतु ली डेमो व्हीकल्स
जांच से यह भी ज्ञात हुआ कि 24 मार्च 2021 को कस्टमर द्वारा आनंद निसान पर NISSAN KICKS गाड़ी के लिए स्वयं आकर जानकारी की गयी थीI NISSAN शोरूम के सेल्स ऑफीसर द्वारा कस्टमर श्रेय तिवारी को गाड़ी के सन्दर्भ में समस्त जानकारी उपलब्ध करवाई, साथ ही श्रेय तिवारी को गाड़ी की टेस्ट ड्राइव एवं नई गाड़ी का क्वोटेशन भी दिया गया। नई गाड़ी की कीमत लगभग 15 लाख रुपये बताई गयी जिस बाबद कस्टमर श्रेय तिवारी ने बताया की मेरा बजट इतना नहीं है तथा मुझे अन्य कोई विकल्प के बारे में बताया जाये, उसके उपरांत सेल्स ऑफीसर ने उन्हें ANAND NISSAN की डेमो व्हीकल्स के बारे में अवगत करवाया साथ ही सम्पूर्ण जानकारी भी दी गयी समस्त जानकारी प्राप्त कर कस्टमर श्रेय तिवारी ने गाड़ी की टेस्ट ड्राइव भी ली और क्वोटेशन लगभग 11 लाख रुपये का प्राप्त किया यह 11 लाख रुपये की कीमत एक्सेसरीज के साथ बताई गयी थी।
तिवारी को हुआ चार लाख का फायदा
कस्टमर श्रेय तिवारी ने डेमो KICKS की कन्डीशन और ऑफर को देखते हुये तुरंत ही पसंद कर लिया और हाथो हाथ गाड़ी को बुक भी कर दी। क्यों कि नई गाड़ी कीतुलना में डेमो KICKS पर लगभग रुपये 4 लाख का डिस्काउंट था। कस्टमर श्रेय तिवारी ने गाड़ी को 28 मार्च को लेने की इच्छा जाहिर की क्यों कि गाड़ी की कन्डीशन एवं ऑफर से कस्टमर श्रेय तिवारी बहुत ही खुश थे। जांच से पाया गया कि कस्टमर श्रेय तिवारी ने गाड़ी के पेटे 2 लाख देकर 28 मार्च 2021 को गाड़ी NISSAN KICKS डेमो व्हीकल्स की डिलीवरी प्राप्त की तथा बकाया राशि के लिए एक पोस्ट डेटेड चेक दिया क्यों कि श्रेय तिवारी चाहते थे कि वो गाड़ी को एक सप्ताह चलाकर उसका परफॉरमेंस देख कर ही साथ पूर्णतः संतुष्ट होकर ही बकाया राशि का चेक क्लियर करवाऊंगा इस पर निसान डीलरशिप द्वारा कस्टमर की संतुष्टि के लिए अनुमति प्रदान की गयी।
ANAND NISSAN  ने देखी कस्टमर की संतुष्टि
ANAND NISSAN द्वारा कस्टमर की संतुष्टि के लिये व कस्टमर के मुहूर्त के अनुसार 28 मार्च 2021 को डेमो KICKS गाड़ी की डिलीवरी की गयी एवं कस्टमर श्रेय तिवारी ने स्वयं गाड़ी की पूजा कर बेहद ख़ुशी एवं संतुष्टि के साथ गाड़ी की डिलीवरी 28 मार्च 2021 को प्राप्त की। कस्टमर द्वारा एक सप्ताह तक गाड़ी का उपयोग कर एवं पूर्णतः संतुष्ट होकर बकाया राशि का पेमेंट कर दिया गया, साथ ही आरटीओ रजिस्ट्रेशन के लिये आग्रह किया जिस पर डीलरशिप द्वारा आरटीओ रजिस्ट्रेशन की कार्यवाही को तुरंत ही पूरा किया गया। इस सम्पूर्ण प्रक्रिया में कस्टमर श्रेय तिवारी पूर्णतः खुश एवं संतुष्ट थे। जांच में यह भी पाया गया की कस्टमर द्वारा डीलरशिप की सारी पेपर फॉर्मेलिटी की गयी जिस पर सारे दस्तावेज में स्पष्ट रूप से लिखा गया था कि यह डेमो व्हीकल्स है और सारे दस्तावेज पर कस्टमर श्रेय तिवारी द्वारा हस्ताक्षर भी किये गए। गाड़ी कि डिलीवरी से लेकर आज दिनांक तक कस्टमर द्वारा इस सन्दर्भ में आनंद निसान शोरूम पर किसी भी प्रकार कि शिकायत नहीं की गयी क्यों की कस्टमर श्रेय तिवारी यह जानते थे की उनके द्वारा ली गयी गाड़ी डेमो कार ही है।
फर्जी कहानी बनाई
उपरोक्त जांच में यह स्पष्ट पाया गया की आनंद निसान के खिलाफ साजिश पूर्ण तरीके से कस्टमर द्वारा झूठी एवं फर्जी कहानी बनाकर इसे न्यूज़ पेपर में प्रस्तुत किया गया। इस जांच के अनुसार यह स्पष्ट होता है की यह सारा मामला कस्टमर द्वारा ब्लैकमेलिंग कर जबरन पैसे वसूलने का प्रतीत होता है। इस प्रकार की घृणित एवं झूठी साजिश के खिलाफ आनंद निसान कानून का सहारा लेकर पुलिस में एफआईआर एवं कोर्ट में जाने की सोच रहा है।


Share To:

Post A Comment: