झाबुआ~सफ ल से सीबीएसई जानेगा......छात्रों ने क्या सीखा~~

10वीं,12वीं बोर्ड परीक्षाओं के पेटर्न में होगा बदलाव~~


झाबुआसंजय जैन~~

सीबीएसई ने स्टूडेंट्स के शैक्षणिक बौद्धिक स्तर का मूल्यांकन करने सफल-स्ट्रक्चर्ड एसेसमेंट फॉर अनालाइजिंग लर्निंग कार्यक्रम लॉन्च किया है। इस पद्धति से स्कूल में सीबीएसई से संचालित स्कूलों में शैक्षणिक गुणवत्ता का मूल्यांकन करने नए शिक्षा सत्र से इस कार्यक्रम को शिक्षण पद्धति में जोड़ा है। सफल कार्यक्रम से तीसरी,पांचवी और आठवीं में स्टूडेंट्स का सतत मूल्यांकन किया जाएगा। जिसमें ना केवल शैक्षणिक बल्कि खेल, रचनात्मकता,कलात्मकता,कला और संस्कृति से जुड़ाव सहित वैज्ञानिक विचार क्षमता और शिक्षण व्यवस्था से स्टूडेंट ने क्या सीखा इसका मूल्यांकन किया जाएगा....? इस मूल्यांकन के आधार पर छात्र को प्रोत्साहन के लिए जरूरी गतिविधियों से जोड़ा जा सकेगा।






स्टूडेंट्स का मूल्याकंन करने के लिए-सफ ल.....
सीबीएसई से संचालित स्कूल तीसरी,पांचवी और आठवीं के स्टूडेंट्स के दो और तीन साल के रिपोर्ट कार्ड के साथ सीबीएसई को सफल कार्यक्रम से स्टूडेंट्स का मूल्याकंन करने के लिए एप्लाई करेंगे। सीबीएसई संवाद,लिखित और मौखिक टेस्ट,खेलकूद,सांस्कृतिक गतिविधियों आदि के माध्यम से स्टूडेंट्स का लर्निंग लेवल यानी सीखने की क्षमता और कितना सीखा इसका मूल्यांकन करेगा। जिसका रिपोर्ट कार्ड स्कूल को दिया जाएगा।






सीबीएसई करेगा छात्रों की कॅरियर काउंसिलिंग........
सेंट्रल बोर्ड ऑफ  सेकंडरी एजुकेशन अब यूनिसेफ  के साथ मिलकर छात्रों को कॅरियर को लेकर गाइडेंस देगा। इसके लिए ऑनलाइन कॅरियर काउंसिलिंग पोर्टल शुरू कर दिया है। इस पोर्टल के माध्यम से कॅरियरए पाठ्यक्रमों,छात्रवृत्ति और प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं के बारे में जानकारी प्राप्त होगी। यह पोर्टल कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए शुरू किया जाएगा।






10वीं,12वीं बोर्ड परीक्षाओं के पेटर्न में होगा बदलाव......
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कोरोना वायरस की वजह से बनी मौजूदा हालत को देखते हुए एक अहम फैसला लिया है। अब 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के पैटर्न में बदलाव होगा,जिसके तहत परीक्षाओं का आयोजन दो टर्म में किया जाएगा। यह परीक्षाएं दो टर्म में आयोजित की जाएंगी। पहले टर्म की परीक्षाएं नवंबर-दिसंबर में आयोजित की जाएंगी जबकि दूसरे टर्म की परीक्षाएं मार्च-अप्रैल में होंगी।






प्रदेश के सभी कॉलेज 15 से खुलेंगे.......
प्रदेश के सभी कॉलेज 15 सितंबर से खोलने का निर्णय लिया गया है। विभाग की एडमिशन के लिए जारी गाइड लाइन के अनुसार एक सितंबर से कॉलेजों में कक्षा लगना शुरू हो गयी है। इनमें 50 प्रतिशत स्टूडेंट्स कॉलेज आए।




Share To:

Post A Comment: