झाबुआ~फिर बढ़े दाम-रसोई गैस सिलेंडर 907.50 का हुआ,दालें 3 से 7 रुपए तक हुईं महंगी~~

दो माह में तीसरी बार बढ़े रसोई गैस के दाम-फिर 25 रुपए महंगा~~


झाबुआसंजय जैन~~

रसोई गैस सिलेंडर फिर 25 रुपए महंगा हो गया है। अब सिलेंडर 907.50 रुपए में मिलेगा। दो माह में गैस सिलेंडर के 3 बार 75 रुपए दाम बढ़ गए हैं। हर बार सिलेंडर के दाम 25-25 रुपए बढ़े। इसी के साथ दालों में भी पिछले माह की तुलना मे 3 से 7 रुपए तक की तेजी आई है। तुअर,मूंग, मोगर,मसूर,उड़द व चना दाल के दाम बढ़े हैं। 




मध्यमवर्गीय परिवारों का बजट गड़बड़ा गया.....  
शक्कर की मिठास पर भी 4 रुपए चार्ज बढ़ गया है। एक माह पहले तक 36 रुपए किलो बिकने वाली शक्कर अब 40 रुपए किलो पर पहुंच गई है। खाना बनाने के लिए गैस और सामग्री महंगी होने से गरीब व मध्यमवर्गीय परिवारों का बजट गड़बड़ा गया है। इसके अलावा अफगानिस्तान पर तालिबान हमले के कारण से काजू,बादाम और किशमिश भी महंगी हो गई है।






अफगानिस्तान से आवक रूकी-अंजीर,बादाम हुई महंगी......
अफगानिस्तान में तालिबान के हमले के बाद ड्राय फ्रूट की आवक रूक गई है। इससे ड्राय फ्रुट महंगे हो गए हैं। हालांकि,पिछले 1 सप्ताह में भाव कुछ कम जरूर हुए हैं,लेकिन 1 माह से पहले की तुलना में अब भी दाम अधिक है। किराना व्यापारी राजेश मेहता ने बताया 1 माह पहले काजू 700 रु.किलो था,अब 900 रु.हो गया है। बादाम 700 रु.से बढ़कर 1000 रु.व अंजीर 800 रु.से बढ़कर 1400 रु.किलो बिक रही है।






त्योहारी डिमांड से चार रुपए बढ़ी शक्कर.......
राखी सहित अन्य त्योहारों पर शक्कर की डिमांड बढऩे से भाव बढ़ गए हैं। अगस्त में 36 रुपए किलो बिकने वाले शक्कर अब फुटकर में 40 रुपए किलो बिक रही है। सितंबर में तीज-त्योहर के दौरान घरों में शक्कर की डिमांड बढ़ेगी। ऐसे में दाम कम होने के आसार कम ही हैं। अगस्त में 36 रुपए किलो शक्कर बिकी। अब 40 रुपए किलो हो गई है।






832.50 से अब 907.50रुपए पर पहुंचा सिलेंडर......
जून में रसोई गैस सिलेंडर का दाम 832.50 रुपए था। 1 जुलाई में को 25 रु.बढ़कर 857.50 रु.हुए। 17 अगस्त को 25 रुपए बढऩे पर सिलेंडर 882.50 का हो गया। अब 31 अगस्त को दाम फिर बढ़े। अब सिलेंडर 907.50 रुपए का हो गया है। सब्सिडी भी मात्र 6.02 रुपए मिल रही है।  25-25 रुपए तीन बार दाम बढ़े हैं।




Share To:

Post A Comment: