बड़वानी~निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित पाये गये 16 शिक्षकों का कटा एक माह का वेतन एवं वेतन वृद्धि रोकने का दिया गया शोकाज नोटिस~~

एक जनशिक्षक हुआ निलम्बित~~

बड़वानी ~ कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा के निर्देश पर जिले में स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण कर शिक्षको की उपस्थिति सुनिश्चित कराने का अभियान सतत प्रारंभ है। इसके तहत विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी एवं शिक्षा विभाग के जिला एवं विकासखण्ड स्तरीय अधिकारी आकस्मिक रूप से स्कूलों में पहुंचकर शिक्षको की उपस्थिति का मिलान पंजी से करते है। इस दौरान अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित शिक्षको की जानकारी सीधे कलेक्टर को प्रेषित की जाती है, जिस आधार पर अनुपस्थित शिक्षको के विरूद्ध कार्यवाही की जाती है।
सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्री निलेष रघुवंशी से प्राप्त जानकारी अनुसार प्राचार्य, बीआरसी, विकासखण्ड अकादमिक समन्वयक, जनशिक्षकों के द्वारा निरीक्षण के दौरान माध्यमिक विद्यालय भण्डारदा के माध्यमिक शिक्षक राधेश्याम चैहान, प्राथमिक विद्यालय वरल्यापानी के प्राथमिक शिक्षक लालसिंह बामनिया, प्राथमिक विद्यालय अम्बाफल्या भण्डारदा के प्राथमिक शिक्षक सुश्री दुनी अलावे, कमल डोडवे, मयाराम चैहान, प्राथमिक विद्यालय उपरी फल्या भण्डारदा के प्राथमिक शिक्षक इंदरसिंह जमरा, प्राथमिक विद्यालय पिछोड़ी के सहायक शिक्षक आरिफ खांन, प्राथमिक विद्यालय अवल्दा के सहायक शिक्षक सूरजसिंह सोलंकी, प्राथमिक विद्यालय चिंदाबोरी गोठानिया के शिक्षक सचिन गावस्कर, माध्यमिक विद्यालय कन्या आश्रम बड़वानी प्राथमिक शिक्षक पार्वती वर्मा, माध्यमिक विद्यालय क्रमांक 9 बड़वानी के सहायक शिक्षक श्रीमती हेमलता शर्मा, प्राथमिक विद्याल नवाड़ फल्या केली के प्राथमिक शिक्षक राजकिशोर शर्मा, प्राथमिक विद्यालय पटेल फल्या पलवट के प्राथमिक शिक्षक सुश्री कमला अलावे एवं नाजिया मकरानी, प्राथमिक विद्यालय प्राथमिक शिक्षक राजपालसिंह यादव, प्राथमिक विद्यालय अम्बाफल्या के सहायक शिक्षक दुर्गाप्रसाद त्रिवेदी का एक माह का वेतन रोकते हुए एक वेतनवृद्धि रोकने हेतु कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया। साथ ही जनशिक्षा केन्द्र शासकीय हाईस्कूल भूराकुआं को निलंबित किया गया।


Share To:

Post A Comment: