खिलेडी/दसई~~प्रदेश के मुखिया के वादे जनता के बीच खोखले साबित होते नजर आ रहे हैं~~

सरकारी हॉस्पिटलों में नहीं है दवाईयां ग्रामीण निजी मेडिकल से खरीदने पर है मजबूर~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

सरदारपुर क्षेत्र के कई प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में नहीं है दवाईयां उपलब्ध और क्षेत्र के कई ऐसे हॉस्पिटल भी है जहां डॉक्टरों की सुविधा भी उपलब्ध नहीं है और क्षेत्र के कई सरकारी हॉस्पिटलों पर आज भी लगा हुआ है ताला
दसाई क्षेत्र के आसपास के दर्जनों गांव  के मरीज डेंगू जैसी बीमारियों से जूझ रहे हैं और खर्च बचाने के लिए सरकारी अस्पतालों का दरवाजा खटका रहे हैं लेकिन सुनने में यह आ रहा है कि दसाई के डॉक्टर  सारे मरीजों को निजी मेडिकलओ से दवाई लाने के लिए हिदायत दे रहे हैं  यह किसी मजाक से कम नहीं है क्योंकि सरकारी में जाने के बाद भी लोगों का पैसा पानी की तरह बह रहा है  वहीं क्षेत्र में यह जन चर्चा बनी हुई है कि डेंगू का इलाज तो कोरोना के इलाज से भी महंगा पड़ने लगा है।

जब इस संबंध में सरदारपुर स्वास्थ्य अधिकारी शीला मुजाल्दा से चर्चा की गई तो उन्होंने यह कह कर फोन काट दिया कि मैंने तो कल ही गाड़ी भर कर दसाई प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए दवाई पहुंचाई है और फोन काट दिया   तत्काल बाद में फोन लगाने पर मुजाल्दा मैडम से फिर चर्चा की गई की  अगर दवाईयां है तो भी मरीज निजी दुकानों  पर क्यों जा रहे हैं तो मैडम ने पल्ला झाड़ते हुए बोला मेरे जानकारी में नहीं है।

जब पत्रकारों द्वारा फोन लगाया जाता है तो बिना जवाब दिए सरदारपुर के स्वास्थ्य अधिकारियों के द्वारा फोन काट दिया जाता है तो इससे क्या साबित होता है कि इसमें स्वास्थ्य विभाग भी मिला हुआ है अब जनता जाए तो किसके पास क्षेत्र में निजी इलाज के चलते क्षेत्र में जन चर्चा भी चल रही है कि क्या दसई के हॉस्पिटल का भी निजीकरण हो चुका है यह भी सुनने में आ रहा है कि पहले मरिज को अौर कहीं से दवाई लाने की जरूरत नहीं पड़ती थी लेकिन विगत कुछ दिनों से नॉर्मल बुखार के लिए भी अगर कोई व्यक्ति सरकारी अस्पताल दसई जा रहा है तो निजी अस्पतालों के बजट के बराबर दवाई का दोज लेकर ही आ रहा है जो मध्यप्रदेश शासन की निशुल्क दवाई वितरण प्रणाली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर रहा है।

जब इस मामले को लेकर क्षेत्रीय विधायक प्रताप ग्रेवाल से चर्चा की गई तो उनका कहना है कि मैं अभी स्वास्थ विभाग के अधिकारी से चर्चा करता हूं


Share To:

Post A Comment: