बड़वानी~ पुलिस ने बंटी और बबली की तरज पर फरियादी को झुठे रेप के केस में फंसाने के नाम पर डरा धमकाकर फरियादी से अवैध वसुली करने वाले पति - पत्नी को किया गिरफ्तार*~~

अपराध क्र.- 784/21
धारा:- 420,388.328.506.120-बी भादवि
आरोपी का नामः- 1. विरू उर्फ विरेन्द्र बघेल पिता चंदरसिह बघेल उम्र 19 साल निवासी ग्राम भगावा थाना डही
2. रविता बघेल पति विरेन्द्र बघेल उय 18 वर्ष निवासी ग्राम फिफेडा हाल नवलपुरा बडवानी
जप्ती माल/किमतः- एक अप्पो कम्पनी का मोबाईल, एक रीयलमी कम्पनी का मोबाईल व एक बजाज
पल्सर मोटर सायकल कुल किमती 01 लाख 20 हजार रुपये के
घटना का संक्षिप्त विवरणः- दिनांक 22.10.21 को फरियादी ने थाना हाजीर आकर रिपोर्ट किया की आज से करीबन 6 माह पहले मार्च माह में बकरा बाजार के पास मुझे सडक पर एक लडकी मिली जिसने मुझसे पूछा की कालेज किधर है तो मैने उसे बोला की आप गलत आ गये हो और टाईम हो गया आप घर चले जाओं तो वह
लड़की नवलपुरा तक मेरी मोटर सायकल पर बैठकर आई थी और पुजा पाठ करवाने की जरुरत पढ़ने का बोलकर फरियादी के मोबाईल नम्बर ले लिये और उसका नाम नाम रविता अलावे बताया फिर दो तीन दिन बाद मुझे मेरे मोबाईल पर रविता अलावे ने फोन करके बोला की हमको पूजा संबधित बात करना है कहकर अमित नगर में साई मंदिर के पास बुलाया फिर 3-4 दिन बाद रविता का फोन आया और बताया कि हमने रूम चेंज कर लिया है और कोर्ट के पीछे बुलाया और बोला की पूजा की सामग्री ले आये है आप पूजा करने आ जाऔ तो मै उस दिन कोर्ट के पीछे पहुंचा जहां रविता व विरेन्द्र मुझे उनके नये रुम पर ले गये वहां पर उन्होने मुझे पानी दिया उसका स्वाद
कुछ अजीब सा आ रहा था और मुझे निंद लग गई फिर करीब आधा घंटा लेटा रहा कुछ मुझे होश आया तो मै
खडा हुआ और मुझे ठीक नहीं लगने से अपने घर आ गया। मुझे करीब 3-4 दिन पुन रविता ने मुझे फोन लगाया
और बोला कि हमको मकान का किराया देना है हमारी कुछ मदद कर दो मैने कहां कि मै तुमको जानता न
पहचानता मै क्यो मदद करू तो रविता ने बोला कि किराया दो नही तो तूम्हारी ब्लात्कार और sc, st एक्ट की रिपोर्ट कर देंगे तो मै डर गया और दूसरे दिन रविता को 4 हजार रूपये उसके मकान के बाहर रविता के हाथ मे दिये फिर इसी तरह आये दिन रविता मुझे डरा धमकाने से रविता को रीयलमी कंपनी का मोबाईल 12500 रुपये  और उसके पति के लिये अप्पो कंपनी का मोबाईल 17800 में बड़वानी से दिलवाया फिर इसी तरह मोटर सायकल की मांग करने पर मैंने सहकारी संस्था से 50 हजार रुपये का लोन लेकर विरेन्द्र 19500 रुपये नगद दिये और अंजड़ शोरुम से एक बजाज पल्सर मोटर सायकल 45,000 रुपये जमा करके दिलवाया जिसकी किस्त में भर रहा हूं। फिर दीनांक 24/09/21 को 10 हजार रूपये शौरुम पर जमा किया फिर दिनांक 03.10.21 को 4140 रुपये मोटर
सायकल कि किस्त शोरुम पर जमा किया बाद में रविता व विरेन्द्र 05 लाख रुपये की मांग करने लगे जिससे में परेशान होकर व बच्चो की गुल्लक से रुपए देने  व पतनी के जेवरात बेचने ,नगदी, मोबाईल व मोटर सायकल दिलाने के बाद भी
05 लाख रुपये की मांग करने पर मेरे पास पैसे खत्म हो जाने से परेशान होकर थाने पर रिपोर्ट करने आया हूं।
मामले की गंभीरता को देखते हुये बड़वानी पुलिस अधीक्षक श्री दीपक कुमार शुक्ला ने थाना प्रभारी
बड़वानी को आरोपीयों की जल्द से जल्द पतारासी कर गिरफ्तार करने के निर्देश दिये गये जो थाना प्रभारी
टी.आई.श्री राजेश यादव ने पुलिस अधीक्षक बड़वानी के निर्देशन एंव अति. पुलिस अधीक्षक श्री आर.डी. प्रजापति, एस.डी.ओ.पी सुश्री रुपरेखा यादव के मार्गदर्शन में एक टीम गठित कर आरोपीयों की पतारासी हेतु टीम के कुछ फोर्स को सिविल ड्रेस में पतारासी हेतु भेजा गया जो टीम द्वारा लगातार पतारासी करते टीम को मुखबिर द्वारा
सुचना मिली की रविता व विरेन्द्र नवलपुरा में महेश धनगर के मकान में किराये से रह रहे है जिस पर टीम द्वारा
नवलपुरा में महेश धनगर के मकान से आरोपीया रविता बघेल व विरेन्द्र बघेल को गिरफ्तार थाना लेकर आये
जिनसे जुर्म बाबद पुछताछ करते जुर्म स्विकार किये जिनके कब्जे से दो मोबाईल व एक पल्सर मोटर सायकल जो फरियादी से खरिदवाकर लिये थे जप्त किये गये। आरोपीयों से पुछताछ में बताया की हमको फिल्म देखकर यह आईडीया आया था। आरोपी रविंद्र ने अपने पिताजी को बताया कि कॉलेज में छात्रवृत्ति मिली थी उससे यह मोटर साइकिल खरीदी है। दोनो आरोपी पति ,पत्नि को माननीय न्यायालय बड़वानी पैश किया गया जहं से न्यायालय द्वारा आरोपीयों का जेल वारंट बनाने से आरोपीयों को केन्द्रीय जेल बड़वानी दाखिल कराया गया।
विशेष भूमिकाः- निरी. राजेश यादव, कार्य. उनि आर.के लोवंशी, कार्य. सउनि केशव यादव, कार्य. प्रआर.
बलवीरसिंह मंण्डलोई, आर. अंतरसिंह रावत, म.आर रेलम बघेल


Share To:

Post A Comment: