बाकानेर~जश्ने ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार सब ने मिलकर मनाया गरीबों की मदद की अस्पतालों में फल वितरित किए~~

बाकानेर ~जश्ने ईद मिलादुन्नबी का दिन मजहब ऐ इस्लाम के अनुयायियों को भाईचारे का पैगाम देता है! इस त्यौहार में शामिल होने के बाद मजहब  इस्लाम के मानने को एक दूसरे के प्रति ईरिशा या कटुता को भुला देना चाहिए या विचार वरिष्ठ पत्रकार प्रेस क्लब आफ वर्किंग जर्नलिस्ट प्रदेश उपाध्यक्ष कौमी एकता कमेटी अध्यक्ष सैयद रिजवान अली ने मीडिया से प्रेस वार्ता में व्यक्त किए!

सैयद रिजवान अली ने कहा जश्ने ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार पूरी दुनिया में मुस्लिम समुदाय के लोग पैगंबर ऐ इस्लाम हजरत मोहम्मद मुस्तफा सल्लल्लाहो वाले वसल्लम के यौमे पैदाइश के रूप में मनाते हैं पैगंबर ए इस्लाम मैं अपने अनुयायियों को हिंसा, ईर्ष्या से दूर रहने के साथ गरीबों यतीमो असहाय लोगों की सेवा करना सिखाया है !
यह त्यौहार मजहब है इस्लाम के मानने वालों को इस तरह मनाना चाहिए कि किसी दूसरे को किसी प्रकार की कोई ठेस ना पहुंचे, और इतना ही नहीं आपसी भाईचारा कायम रखते हुए हिंसा अराजकता से दूर रहकर सभी को एक साथ लेकर चलने का पैगाम देता है !उन्होंने कहा मजहब है इस्लाम को मानने वाला व्यक्ति कभी भी अशांति, अराजकता के रास्ते को नहीं जा सकता और जो लोग अराजकता या दूसरे को ठेस पहुंचाने का काम करते हैं वह कभी मजहब है इस्लाम के मानने वाले नहीं हो सकते !वरिष्ठ पत्रकार समाजसेवी सैयद रिजवान अली ने कहा गंगा जमुना तहजीब को कायम रखते! हुए मुस्लिम समुदाय से शासन व प्रशासन के नियमों का पालन करते हुए जश्ने ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार शासन की गाइडलाइन के हिसाब से मनाया गया इस अवसर पर चौकी प्रभारी राहुल चौहान ब्लॉक जनपद उपाध्यक्ष डॉक्टर ओम जोशी सदर बशीर खान धवला भाई मलखान सिंह पटेल सिराज खान अशफाक बबलू भाई मास्टर सैयद हुसैन अली आरिफ कुरैशी  आदि ने, इस्लाम के अनुयायियों और दिगर सभी समाज के लोगों को को जश्ने ईद मिलादुन्नबी की मुबारकबाद दीl गरीबों की मदद की अस्पतालों में फल वितरित किए


Share To:

Post A Comment: