धार~निषेध क्षेत्र से ईद मिलादुन्नबी के जुलूस निकालने पर पुलिस ने लोगों को रोका, ~~

नहीं मानने पर चलाई लाठी~~

पुलिस व प्रशासन द्वारा निर्धारित मार्ग के बजाए ~~

परंपरागत मार्ग से जाने का दबाव बना कर कुछ लोगों ने पुलिसकर्मियों से झूमाझटकी भी की~~

शहर के संवेदनशील व प्रमुख स्थानों पर लगाने होंगे कैमरे

धार-  ( डाँ.अशोक शास्त्री )

धार शहर में ईद मिलादुन्नबी के जुलूस के तहत मंगलवार को करीब सवा 10 बजे अचानक से अफरा-तफरी का माहौल बन गया। जुलूस जब उटावद दरवाजा क्षेत्र से गुजर रहा था तो उसमें शामिल कुछ लोगों ने बेरिकेड्स हटाकर प्रवेश निषेध वाले क्षेत्र में प्रवेश करने का प्रयास किया। इस पर पुलिस बल ने इन लोगों को रोका। जब लोग हंगामा करने लगे तो पुलिस बल को लाठी भांजना पड़ी। ऐसे में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी के हालात बन गए थे। पुलिस बल ने हालात पर तुरंत ही काबू पा लिया। लाठीचार्ज के बाद कई इलाकों में लोगों की भीड़ जमा हो गई थी।
शरारती तत्वों को चिह्नित कर रहे हैं

पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने बताया कि धार जिला मुख्यालय पर मंगलवार को सुबह करीब 10:30 बजे ईद मिलादुन्नबी के जुलूस के दौरान अफरातफरी की स्थिति बनी गई थी। पुलिस व प्रशासन द्वारा निर्धारित मार्ग के बजाए जब एक वर्ग के कुछ लोग परंपरागत मार्ग से जाने का दबाव बनाने लगे। इस पर इन लोगों को रोका। इस दौरान कुछ लोगों ने पुलिसकर्मियों से झूमाझटकी भी की। पुलिस ने तरंत हालत संभाल लिए, इसके बाद में शांतिपूर्ण तरीके से जुलूस निकलवाया गया। जुलूस के लिए मार्ग निर्धारित किया गया था। लेकिन जुलूस में शामिल कतिपय लोगों ने उटावद दरवाजा क्षेत्र में आकर परंपरागत मार्ग से जुलूस निकालने की कोशिश की। इन लोगों को पुलिस द्वारा रोका गया। इसके बाद धार के मोहन टॉकीज क्षेत्र में भी अप्रिय स्थिति बनी। बाद में शांतिपूर्ण तरीके से जुलूस निकाल लिया गया है। फिलहाल हम शरारती तत्वों को चिह्नित कर रहे हैं। इसमें प्रकरण दर्ज करके गिरफ्तारी की जाएगी।

शहर के संवेदनशील व प्रमुख स्थानों पर लगाने होंगे कैमरे

जिला प्रशासन को नगर में शांति व अमन कायम करने के लिए सुरक्षा की दृष्टि से नगर के प्रमुख चौराहे औऱ संवेदनशील क्षेत्रों में कैमरे लगाकर निगरानी व चौकसी की जाने की आवश्यकता है।


Share To:

Post A Comment: