बड़वानी~भोपाल में आयोजित जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में भाग लेने हेतु~~

जिले से 10 हजार जनजातीय बन्धु एवं जनप्रतिनिधि हुये रवाना~~

जिले से जाने वाली 300 बसों को जनप्रतिनियों ने अपने - अपने क्षेत्र से हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना~~

बड़वानी 15 नवम्बर को भगवान बिरसा मुण्डा की जयंती पर भोपाल में आयोजित होने वाले जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में जिले से 10 हजार जनजातीय बन्धु भी भाग लेंगे । इन जनजातीय बन्धुओं को रविवार को 300 बसों के माध्यम से रवाना किया गया है। जिले के विभिन्न स्थानों से बस के माध्यम से रवाना हुये, इन जनजातीय  बन्धुओं की बसों को स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया ।
शहीद भीमा नायक स्मारम पर मथा टेकर रवाना हुये जनजातीय बन्धु
प्रधानमंत्री की उपस्थिति में भोपाल में आयोजित जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में भाग लेने जाने वाले जनप्रतिनिधियों एवं जनजातीय बन्धुओं ने बड़वानी जिले के स्वतंत्रता सैनानी एवं जनजातीय नायक शहीद भीमा नायक के स्मारक पर पहुंचकर जहाॅ उन्हें अपना श्रद्धासुमन अर्पित किया। वहीं जयघोस के साथ बसों में बैठकर रवाना हुये । धाबा बावड़ी में स्थापित शहीद भीमा नायक के स्मारक से इन बसों को हरी झण्डी दिखाकर राज्यसभा सांसद डाॅ. सुमेरसिंह सोलंकी, केबिनेट मंत्री श्री प्रेमसिंह पटेल के प्रतिनिधि श्री बलवन्तसिंह पटेल, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री ओम सोनी सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने रवाना किया ।
शहीद खाज्या नायक एवं भीमा नायक की कर्मभूमि से पवित्र माटी लेकर रवाना हुये जनजातीय बन्धु
भोपाल में आयोजित जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में भाग लेने गये जनप्रतिनिधि एवं जनजातीय बन्धु अपने साथ शहीद खाज्या नायक एवं भीमा नायक की जन्म स्थली तथा कर्मभूमि से पवित्र माटी भी लेकर गये है। इस दौरान राज्यसभा सांसद डाॅ. सुमेरसिंह सोलंकी ने बताया कि सम्पूर्ण प्रदेश से जनजातीय स्वतंत्रता सैनानियो के जन्म स्थली से इसी प्रकार की पवित्र माटी कलश में लेकर जनप्रतिनिधि भोपाल पहुंच रहे है। जहाॅ इन सब पवित्र माटी को एक कलश में एकत्रित कर मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान, माननीय प्रधानमंत्री जी को आदर सहित भेंट करेंगे ।
जिले के विभिन्न अंचलो से रवाना हुई है बसें
सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्री निलेश रघुवंशी से प्राप्त जानकारी अनुसार विकासखण्ड पाटी से 31 बस, बड़वानी से 44 बस, ठीकरी से 24 बस, राजपुर से 51 बस, सेंधवा से 75 बस, निवाली से 37 बस तथा पानसेमल से 38 बसे जनजातीय भाईयों को लेकर रवाना हुई । इस प्रकार  जिले की प्रत्येक विधानसभा से 75-75 बसे रवाना की गई है। जिसमें 10 हजार जनजातीय भाई, नोडल अधिकारी रवाना हुये है।
सीहोर एवं देवास में करेंगे रात्रि विश्राम
जिले से रवाना हुये 10 हजार जनजातीय बंधुओं में से 2 हजार जनजातीय बंधु सीहोर में एवं 8 हजार जनजातीय बंधु देवास में रात्रि विश्राम करेंगे। जहां से सभी बसे 15 नवंबर की सुबह इस प्रकार रवाना होंगी कि प्रातः 10 बजे वे भोपाल के जंबूरी मैदान पर आयोजित होने वाले जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में पहुंच सके। बसों के साथ 6-6 नोडल अधिकारी भी गये है। जिससे जिले से गये जनजातीय बंधुओं को रूकने, खाने-पीने में किसी प्रकार की असुविधा न होने पाये।
इसी प्रकार जिले से गई प्रत्येक बस के साथ मेडिकल किट भी दी गई है। वही काफिले के साथ प्रत्येक विधानसभा, जनपद से पर्यवेक्षक के रूप में भी अधिकारियों का दल भी अलग-अलग वाहनों से रवाना किया गया है। जो मार्ग की स्थिति की समुचित जानकारी जिला कन्ट्रोल रूम को उपलब्ध कराता रहेगा ।


Share To:

Post A Comment: