रिगनोद~आजादी महत्सव के तहत जननायक क्रांतिकारी टांट्या मामा की गौरव रैली 2 दिसम्बर को पहुंचेगी बस स्टेंड रिगनोद , अधिकारियों ने बैठक कर कार्यक्रम की रूपरेखा तय की ~~

अनुराग डोडिया रिगनोद~~

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत राज्य शासन 4 दिसंबर शनिवार को महू के पातालपानी में क्रांतिकारी टंट्या मामा की स्मृति में कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। कार्यक्रम के पहले पूर्व नियोजित आदिवासी जिलों में क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या भील गौरव गाथा को सुनाने और दिखाने के लिए यात्राएं निकल रही है। इस यात्रा में टंट्या मामा की जन्मस्थली बड़ोद अहिर से लाया गया माटी कलश भी साथ में होगा। यात्रा के साथ जनजातीय समुदाय के लोक कलाकारों की टीम भी होगी जो विभिन्न सांस्क्रतिक प्रस्तुतिया देंगी। यह टीम जननायकों की गौरव गाथा को आदिवासी समुदाय के मध्य प्रदर्शित करेगी। वाहन रथ में एल ई डी के माध्यम से कार्यक्रम दिखाया जाएगा। वाहन में लोक प्रस्तुति हेतु मंच और ध्वनि प्रसारण व्यवस्था भी मौजूद रहेगी। इसी कड़ी में जननायक टंट्या मामा की भील गौरव कलश यात्रा  2 दिसंबर गुरुवार को रिंगनोद के बस स्टैंड पर शाम 5:30 बजे पहुंचेगी जहां पर यात्रा का स्वागत तथा नुक्कड़ सभा का आयोजन प्रायोजित है। इसी कार्यक्रम को गति देने तथा विस्तारित करने के लिए आज 29 नवम्बर सोमवार को दोपहर मे सरदारपुर एसडीएम बी एस क्लेश, एसडीओपी राम सिंह मेंढा, सीईओ शैलेंद्र कुमार शर्मा, पुर्व विधायक वेलसिंह भूरिया सहित रिंगनोद ग्राम पंचायत सचिव इंद्रजीत सिंह राठौड़ आदि ने रिगनोद मे होने ने वाले इस कार्यक्रम की रूपरेखा तय की ,


Share To:

Post A Comment: