खिलेडी/कानवन~~कानवन पुलिस को मिली बड़ी सफलता~~

ढाबा मालिक को जान से मारने की धमकी देने वाले चढ़े पुलिस के हत्थे~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

पुलिस अधीक्षक महोदय धार श्री आदित्य प्रतापसिंह के द्वारा चलाये जा रहे विशेष अभियान अवैध सट्टा रंगदारी पर अंकुश लगाने हेतु निर्देशित किया गया था। जिसको लेकर दिनांक 24.11.2021 को फरियादी राजेश पिता रमेशचन्द्र राठौड जाति तेली उम्र 36 साल नि . ग्राम माकनी नागदा ने थाना हाजिर मौखिक रिपोर्ट किया कि मैं उक्त पते पर रहता हूँ । मेरा महू नीमच मुख्य रोड साईड में राजश्री नाम से ढाबा है, ढाबे पर मैं रात्रि में 2.45 बजे करीब गल्ले पर बैठा था तभी सफेद रंग की दो कार टाटा आरिया नंबर एमपी 09 सीएल 3731 एवं मारुति स्विफ्ट एमपी 09 सीजी 2240 से कुल 07 लोग उतरकर आए जिसमे दो लोगों के पास बन्दुके थी एक हरी शर्ट पहले व्यक्ति के पास 12 बोर बन्दूक दो नाली की और लाल रंग की टी शर्ट पहने आदमी के पास 315 बोर की सिंगल नालवाली बन्दूक थी । उनमें से एक सफेद शर्ट पहने आदमी ने
खाने का आर्डर दिया । जिसे मैने बोला कि खाना नहीं है । चाय नाश्ता मिला जाएगा । इस पर उन्होंने चाय नाश्ता पाउच मांगा । जिनसे मैने पैसे मांगे तो सभी मुझे माँ बहन की नंगी नंगी गालिया देने लगे औरंगजेब सफेद शर्ट पहने बड़े बाल वाले व्यक्ति ने हरी शर्ट पहने 12 बोर बन्दुक वाले का नाम राजूसिंह लेकर और लाल रंग की टीशर्ट पहने 315 बोर बन्दुक वाले का नाम अशोक लेकर आवाज देकर बोला कि राजूसिंह , अशोक इधर आओ । इनको बताओ कि मैं कौन हूँ । इस पर दोनों बन्दुक वाले आए और बन्दूक तानकर बोले कि यह बृजपालसिंह तोमर युपी औरिया के प्रापर्टी वाले बड़े गुण्डे है । तुम इनसे पैसे मांग रहे हो । इस पर मेरा नौकर राहुल बीच बचाव करने आया तो सफेद शर्ट वाले आदमी ने राहुल को थप्पड़ मारे और बोला कि हम बम से तेरी दुकान फोड़ देंगे और तुम सबको गोलियों से जान से मार देंगे । मैने पुलिस को फोन लगाने का बोला तो सभी वहां से चले गए । फरियादी कि रिपोर्ट पर श्रीमान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय श्री देवेन्द्र पाटीदार एवं श्रीमान एसडीओपी महोदय बदनावर श्री देवेन्द्र यादव के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी श्री दीपकसिंह चौहान के नेतृत्व में टीम गठित की गई थी । टीम द्वारा दिनांक 25.11.2021 को दौराने कस्बा भ्रमण व आरोपीयो द्वारा राजश्री होटल पर बन्दूक दिखाकर वारदात करने की सूचना पर हाईवे पर नाकाबन्दी कर आरोपियान की तलाश करते नागदा में सुबह 10 बजे मुखबिर सूचना मिली कि राजश्री दाबा पर बन्दूक दिखाकर वारदात करनेवाले बदमाश खंडीगारा फाटा जीरो पाईन्ट तरफ है सब हमराही फोर्स एवं राहगीर पंचान दिनेश पिता भंवरलाल मकवाना जाति भील उम्र 35 साल निवासी अमोदिया एवं विकास पिता जगदीश कुशवाह जाति काछी उम्र 20 साल निवास कानवन को तलब कर मुखबिर सूचना से अवगत करा बहमराह लेकर खंडीगारा फाटा पहुंचाँ जहाँ दो सफेद कार में सवार व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगे जिन्हें हमराही फोर्स व पंचानों की मदद से घेराबन्दी कर बमुश्किल पकड़ा जो टाटा आरिया कार क्र . एमपी 09 सीएल 3731 के चालक से पूछताछ करते उसने अपना नाम बजराजसिंह पिता कृपालसिंह तोमर जाति राजपूत उम्र 27 साल निवासी ग्राम चपटा थाना अजीतमन जिला औरैया उ.प्र . का होना तथा ड्राईवर के बंगलवाली सीट पर बैठे व्यक्ति ने अपना नाम अशोक पिता द्वारकाप्रसाद शर्मा जाति बाहरण 34 38 साल निवासी कठवाहांजी थाना गोहद जिला भिण्ड तथा पिछली सीट पर बैठे दो व्यक्तियों ने अपने नाम नावेद पिता जमीलउद्दीन शेख जाति मुसलमान उम्र 20 साल निवासी जगदीश गली अडाल मोहल्ला बडनगर जिला उज्जैन सलमान पिता रुस्तम खाँ जाति मुसलमान उम्र 28 साल निवासी साजीलालपुरा बड़नगर होना बताया एवं मारुति स्विफिट कार "एमपी 09 सीजी 7240 के चालक से पूछताछ करते उसने अपना नाम इरफान पिता शेरू खान जाति मुसलमान उम्र 23 साल निवासी मिर्ची बाजार बड़नगर का होना बताया तथा ड्राईवर के बगलवाली सीट पर बैठे व्यक्ति ने अपना नाम राजूसिंह पिता रघुवीरसिंह तोमर उम्र 32 साल निवासी बगपुरा थाना दिसली जिला मुरैना तथा पिछली सीट पर बैठे व्यक्ति ने अपना नाम सन्दीप पिता उदयसिंह तोमर जाति राजपूत उम्र 21 साल निवासी चकसिकारा थाना नगरा जिला मुरैना होना बताया जिनसे राजश्री ढाबे पर बन्दुक दिखाकर वारदात करने के संबंध में पूछताछ करते जुर्म स्वीकार किये जिन्हें अभिरक्षा में लेकर  थाने पर अपराध क्र . 622/2021 धारा 147 , 148,149 , 294,323,506,327 भादवि की एफआईआर विवेचना हेतु प्राप्त की तथा सभी आरोपियों को अपराध सदर में मुताबिक गिरफ्तारी पंचनामे के गिरफ्तार किया । जिसमें आरोपियान से कपड़ों के हुलिये मुताबिक पूछताछ करते हरी शर्ट पहने व्यक्ति ने अपना नाम राजूसिंह तोमर होना एवं अपराध में प्रयुक्त 12 बोर दोनाली बन्दूक स्विफ्ट कार में सीट के नीचे छिपाकर रखना बताया सबब आरोपी राजू का धारा 27 साक्ष्य विधान का मेमोरेण्डम लिया जाकर मुताबिक मेमो के 12 बोर दोनाली बन्दूक मय 3 जिन्दा कारतूस के तथा पहनी हरी शर्ट पहचान सबूत में जस कर जसी पंचनामा बनाया । बाद लाल टीशर्ट पहने व्यक्ति से पूछताछ करते अपना नाम अशोक शर्मा होना एवं अपराध में प्रयुक्त 315 बोर एक नाल वाली बन्दूक टाटा आरिया कार में सीट के नीचे छिपाकर रखना बताया सब आरोपी अशोक शर्मा का धारा 27 साक्ष्य विधान का मेमोरेण्डम लिया जाकर मुताबिक मेमो के 315 बोर एक नाल वाली बन्दूक मय 6 जिन्दा कारतूस के तथा पहनी लाल टीशर्ट पहचान मे जप्त कर पंचनामा बनाया । बाद टाटा आरिया कार क्र . एमपी 09 सीएल 3731 को चालक ब्रजराजसिंह पिता कृपालसिंह तोमर से एवं मारुति स्विफिट कार एमपी 09 सीजी / 240 को चालक नाम इरफान पिता शेरू खान से पृथक - पृथक विधिवत मुताबिक जसी पंचनामे के जस कर दोनों कार थाना प्रांगण में सुरक्षित खड़ी कराई गई । प्रकरण में धारा 25,27 आम्स एक्ट बढाई गई है । आरोपियों को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश किया गया है । उक्त कार्यवाही से जनता में हर्ष का माहौल है । और सभी ने पुलिस कार्यवाही कि प्रशंसा कि । उक्त कार्य हेतु थाना कानवन के सोहनसिंह कायत ,  जितेन्द्र गोसर, चंचलसिंह चौहान , धिरेन्द्रसिंह चौहान ,  राजकुमार मौर्य , मन्नुसिंह भूरिया , ईश्वर गरुडा .  भगवतीलाल व शाहरुख , धर्मेन्द्र, दिनेश, नवीन सैनिक जितेन्द्र , रामसिंह , अमरसिंह के द्वारा सराहनीय कार्य किया गया ।


Share To:

Post A Comment: