बाकानेर~सरकार पूनम अंकुर छाबड़ा के सामने झुकी, संघर्ष की जीत हुई~~

सम्पूर्ण शराबबंदी व सशक्त लोकायुक्त हेतू लगातार अनशनरत आंदोलनकारी पूनम अंकुर छाबड़ा के अनशन स्थलन पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया~~

बाकानेर (सैयद अखलाक अली)

राष्ट्रीय शराबबंदी आंदोलन जयपुर समाज सेविका पूनम छाबड़ा ने कहा, सरकार नशे का व्यापार बन्द करे,
सरकार बेशक हमारा खून बेच दे, उससे रेवन्यू अर्जित करे, मगर शराब रूपी जहर व अन्य नशे के पदार्थों को बेचना बंद करे, ताकि आने वाली पीढिय़ों का भविष्य बचाया जा सके। देश को बचाना है, इसलिए नशामुक्ति की ओर अग्रसर होना होगा। सशक्त लोकायुक्त से ही भ्रष्टाचार को रोक कर देश के गरीबों को सशक्त कर नया जीवन दिया जा सकता है। सरकार के न्यौते पर प्रतिनिधि मंडल के अध्यक्ष पवन जैन, सचिव ओमप्रकाश घूमना, विशाल भारद्वाज व चंचल धीमन ने सचिवालय में वित्त सचिव से मुलाकात की, जो सकारात्मक रही। इधर डॉ. जाँच में पूनम अंकुर छाबड़ा के बी.पी. ज्यादा नीचे आने पर डॉ. ने हॉस्पिटल रैफर कर दिया। पूनम अंकुर छाबड़ा के मना करने के बावजूद जबरन बुधवार को अनशनस्थल से उठाकर आईसीयू में भर्ती करवा दिया गया था। वहाँ पर उनके रक्तचाप की जांच की गयी तो वह काफी नीचे जा चुका था। इसी के मद्देनजर सरकार के प्रतिनिधि आबकारी अधिकारी सुनील भाटी व पूर्व विधायक गोपीचंद गुर्जर (नगर) SMS हॉस्पिटल पहुंचे। सरकारी अधिकारियों ने पूनम अंकुर छाबड़ा की शराबबंदी और उनकी अन्य मांगों को लेकर की गयी कार्यवाही से अवगत करवाया। यह भी जानकारी पूनम छाबड़ा को दी गयी कि डॉ. बीडी कल्ला की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन कर दिया गया है। 
उन्होंने हॉस्पिटल में पूनम अंकुर छाबड़ा की माँगों को मान लिया गया है व सभी बिंदुओं की जानकारी मीडिया के सामने बयान में दी। ओमप्रकाश घूमना, पूर्व विधायक गोपीचंद गुर्जर, शराबबंदी समर्थक व आबकारी अधिकारी सुनील भाटी के आग्रह पर पूनम अंकुर छाबड़ा ने अनशन स्थगित कर ज्यूस पिया।

फिलहाल पूनम अंकुर छाबड़ा एस एम एस हॉस्पिटल में मेडिकल आई सी यू बेड नंबर 2 पर भर्ती करवाया, सीनियर प्रोफेसर डॉ. स्वाति श्रीवास्तव की देखरेख में इलाज जारी है।


Share To:

Post A Comment: