नसरुल्लागंज~ अतिक्रमणकारियों के हौसले हो रहे बुलंद क्योंकि प्रशासन द्वारा अनदेखा किया जा रहा है अतिक्रमण~~

जिनकी दुकान एवं मकान टूट रहे थे 12 से 15 फीट अब वह सभी कह रहे हैं कि हम बिना तोड़े हो गए हैं अतिक्रमण से मुक्त~~

ऐसा क्या हुआ दो दिन में जो अतिक्रमण कारी कह रहे है अब नहीं टूटेंगे हमारे मकान है और दुकान~~

नसरुल्लागंज से कन्हैया राठौर नसरुल्लागंज तहसील रिपोर्टर की रिपोर्ट~~


नसरुल्लागंज में नाले के किनारे बसे मकान एवं दुकानदारों का कहना है कि अब हम अतिक्रमण से बच गए हैं क्योंकि प्रशासन द्वारा जितनी जगह चाहिए थी उससे ज्यादा दूरी पर आ गए बिना तोड़े बिना कुछ किए हैं यह सब कैसे हो गया जब प्रशासन द्वारा इन सभी दुकानों व मकानों में निशान लगाए गए थे जब यह सभी 12 से 15 फीट मकान टूट रहे थे अब ऐसा क्या हो गया कि सब अतिक्रमण कारी एक सुर में कह रहे हैं कि हम अतिक्रमण मुक्त हो गए हैं अब हमारा कोई भी मकान या दुकान नहीं टूटेगा इसलिए हम अपनी मकान और दुकान नहीं तोड़ रहे हैं अब यह देखना है कि शासन द्वारा जो निशान लगाए गए हैं वह गलत है या 2 दिन पहले समस्त अधिकारी द्वारा अतिक्रमणकारियों ने नापने की बात कही थी तो समस्त अधिकारियों ने कहा था कि जो निशान लगाए हैं वह सही है आप अपना मकान दुकान तोड़ ले लेकिन ऐसा क्या हुआ 2 दिन में कि अतिक्रमण कारी यह कह रहे हैं अब हम अतिक्रमण से दूर हो गए हैं ऐसा तो नहीं ठेकेदार द्वारा जो नाली खुदाई का काम चल रहा है वह नापतोल से पीछे कर लिया है इसीलिए तो यह अतिक्रमण कारी खुलेआम कह रहे हैं कि अब हम अतिक्रमण मुक्त हो गए हैं अब यह देखने वाला विषय है कि आप प्रशासन द्वारा जो निशाने लगाए हैं वहां से अतिक्रमण होता है या अतिक्रमण कारी कह रहे हैं वह होता है


Share To:

Post A Comment: