खिलेडी/कानवन~~शिक्षक का पद कितना गरीमामय पद है जिसका अंदाजा शिक्षक की विदाई से ही लगाया जा सकता है~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

खिलेडी/कानवन~~शिक्षक का पद कितना गरीमामय पद है जिसका अंदाजा शिक्षक की विदाई से ही लगाया जा सकता है कुछ शिक्षक ऐसे होते हैं जिनके व्यक्तित्व से समाज व शिक्षक समुदाय प्रभावित होकर उनका अनुसरण करने लगते हे ऐसे ही शिक्षक जोर सिंह भिड़े है  ग्राम पंचायत दिवानिया के मसानिया में विदाई समारोह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 01जनवरी शनिवार को विद्यालय के जोर सिंह भिड़े का मसानिया विद्यालय में 20 वर्ष शिक्षा देने के पश्चात अपने निजी गांव ग्रह निवास डही में स्थानांतरण हुआ जिससे कारण विद्यालय परिवार को गांव की ओर से विदाई समारोह रखा गया विद्यालय परिवार को छोड़कर जाने के गम को उनके आवास के निकट पदस्थापना की खुशी ने झलक नहीं दिया  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ब्लॉक समन्वयक अधिकारी देव नारायण गुजराती थे तो वही कार्यक्रम की अध्यक्षता  प्राचार्य हेमंत व्यास द्वारा की गई विशेष अतिथि सुरेश यादव गांव के रुघनाथ सिंह पटेल थे कार्यक्रम की शुरुवात अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप परजलित कर की गई
कार्यक्रम के केंद्र बिंदु बने जोर सिंह भिड़े का गांव के लोगो द्वारा साफा बांध कर व साल श्री फल देकर सम्मान किया गया वही अतिथि व ग्राम वासियों द्वारा प्रदत्त वरिष्ठ जनो के साथ अभिनंदन पत्र भेंट किया गया जिसका वाचन सचिव विक्रम सिंदे द्वारा किया गया तत्पश्चात गांव के वरिष्ठ जनों को बच्चों द्वारा भी श्री भिड़े का पुष्प माला व स्मृति चिन्हों से स्वागत कर सम्मानित किया गया  कार्यक्रम को मुख्य अतिथि श्री गुजराती व कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे श्री व्यास द्वारा संबोधित किया गया गौरतलब है की प्रधान पाठक जोर सिंह भिड़े द्वारा ग्राम मसानिया के प्राथमिक स्कूल में 20 सालो तक सेवा दी गई श्री भिड़े द्वारा बच्चों के लिए कर्तव्यनिष्ठ था ईमानदारी के साथ विद्यार्थियों को उत्कृष्ट शिक्षा दी जिसके परिणाम स्वरूप छोटे से गांव से 8 बच्चे नवोदय विद्यालय में चयनित हुए जिससे विद्यालय वह गांव का नाम गौरवान्वित हुआ अनेक उत्कृष्ट कार्यों के उपरांत भी उनके  मन में कभी लालसा हावी नहीं रही 20 शाल प्राथमिक विद्यालय में निरंतर सेवा देने के उपरांत उनका स्थानांतरण उनके गृह निवास डही हुआ उनके हुए  इस स्थानांतरण से गांव के लोग भावुक नजर आए तो वही कुछ लोगो की आंखों से आंसु छलक पड़े विदाई समारोह में राम सिंह पंवार  मुकेश आवलिया दौलत सिंदे प्रेम सिंह राम लाल महेश जी आदि ग्राम के लोग मौजूद रहे कार्यकर्म का संचालन डा. विशाल राव निक्कम ने किया  एवं आभार डा. सोहन आवलिया ने माना।


Share To:

Post A Comment: