खिलेडी/दसई~~बदनावर के ग्राम खिलेडी मे हुई बीती रात बेमौसम बारिश से  किसानों की, खड़ी फसलें हुईं चौपट साथ ही माटी कला उधोग में बनी मिट्टी की ईंटे हुई बर्बाद~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

खिलेडी व दसई आसपस क्षेत्र मे बीती रात अचानक मौसम  बदलने से कई जगहों पर हुई बेमौसम बरसात ने किसानों की आफत बढ़ा दी है। क्षेत्र के आसपास ग्रामीण अंचल में बेमौसम बरसे बादलों ने बड़ा नुकसान पहुंचाया है। किसानों ने कहा कि किसी को भी ये उम्मीद नहीं थी की मौसम इस कदर बदलेगा की आसमान से आफत की बरसात शुरू हो जायेगी लेकिन बादलों ने पानी गिराया तो खेतों में खड़ी फसल गेहूं,मटर,लहसुन,अादि की फसलें चौपट हो गईं। बीती रात गिरे बारिश ने किसानों और प्रजापत समाज के लोगो की पिछले 2 माह से चल रही मेहनत को कुछ ही मिनटों में तबाह करके रख दिया है। किसानों की फसल खेतो में गिरी हुई पड़ी है वही ईंट उधोगो में हजारों ईंटे बारिश में भीग चुकी है बदनावर के ग्राम खिलेडी एवं आसपास क्षेत्रों में बरसात का असर साफ देखा जा सकता है।
वही किसान गजेन्द्र राठौर ने बताया है कि एको खाद हमने 1350  रुपये प्रति बैग खरीदा है यूरिया खाद 300 रुपए प्रति बैग खरीदा ऐसे में किसान करे तो क्या करें किसान की आर्थिक स्थित खराब है वही ईंट उधोगो से जुड़े प्रजापत समाज के लोगों का कहना है कि हम लोगो ने ईंटे ठंड में रात दिन एक करके बनाई थी जो अब हमारे किसी काम की नही है केवल पकने के लिए सही मौसम का इन्तजार था पर बारिश ने पूरी मेहनत पर पलीता फेर दिया । क्षेत्र के प्रजापति समाज के लोगो को शासन से राहत राशी की आस है,वही यादव प्रजापत व पंकच प्रजापत का असामयिक आयी आपदा पर कहना हैं कि कच्ची ईंटो की मजदूरी में खर्च ओर मेहनत समय सब कुछ अब वापस नही आएगा और हमे आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ेगा।


Share To:

Post A Comment: