नसरुल्लागंज~मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अपनी विधानसभा को सोंधीय कारण करने हेतु करोड़ों रुपए खर्चे कर रहे हैं~~

इसमें नसरुल्लागंज के मध्य में बहने वाला नाला इस सोंधीय करण का एक हिस्सा है जिस पर कई अतिक्रमणकारियों ने कब्जा कर रखा है~~

जिसे आज कलेक्टर महोदय के आदेश के बाद नगर परिषद द्वारा हटाया जाएगा~~

नसरुल्लागंज से आनंद अग्रवाल जिला ब्यूरो की रिपोर्ट~~


नसरूल्लागंज। लंबे समय से अतिक्रमण हटाये जाने संबंधी सभी आदेशों पर अब विराम लग चुका हैं। सोमवार को तहसीलदार लाखन सिंह चौधरी ने नाला निर्माण सहित अन्य विकास कार्यो में बाधक बन रहे अतिक्रमण को हटाने के लिए राजस्व निरीक्षक व नगर पटवारी के साथ नप को आदेशित किया हैं। जिसके चलतें आज सुबह से अतिक्रमण हटाये जाने की कार्रवाई होगी। प्रशासनिक अमला पूरे दल-बल के साथ आज सबसे पहले नाले के समीप बने अतिक्रमण को हटाएगा।
इसके बाद प्रशासन की मुहीम अन्य स्थानों पर चलेगी। सोमवार को तहसीलदार लाखन सिंह चौधरी ने राजस्व निरीक्षक व नगर पटवारी राजेश धनवारे व मुख्य नप अधिकारी को आदेशित किया है कि आज मंगलवार को नाले के पास अतिक्रमण हटाने के लिए सुबह 10 बजे से कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए जेसीबी मशीन तथा नप के अधीनस्थ कर्मचारी मौके पर पहुंचे। अतिक्रमण हटाने में विवाद की स्थिति निर्मित ना हो ऐसे में पर्याप्त पुलिस बल भी यहां मौजूद रहेगा। आदेश की कॉपी जिला कलेक्टर सहित एसडीएम, एसडीओपी को भेजी गई हैं। ज्ञातव्य हैं कि नगर में 13 करोड़ से भी अधिक की लागत से बन रहे नाला निर्माण में अतिक्रमण बाधक बना हुआ था। अतिक्रमणकारियों को एक पखवाड़े का समय स्थानीय प्रशासन के द्वारा पूर्व में दिया जा चुका हैं। बावजूद इसके अतिक्रमणकारियों ने स्वेच्छा से अतिक्रमण हटाने की वजाय सेटिंग करने में समय बर्बाद कर दिया।
अब प्रशासन अतिक्रमण को लेकर सख्त हो चुका हैं। चेतावनी व मुनादी के बाद भी अतिक्रमण ना हटाये जाने से प्रशासन ने कड़े रूख अपना रखे हैं। तहसीलदार लाखन सिंह चौधरी ने बताया कि प्रशासन द्वारा हटाये गए अतिक्रमण में आने वाले व्यय की पूर्ति भी अतिक्रमणकारियों से की जाएगी। आज पूरा अमला दल-बल के साथ अतिक्रमण हटाएगा। इसमें व्यवधान उत्पन्न करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनीकार्रवाई की जाएगी।
तहसीलदार लाखन सिंह चौधरी के अनुसार इंदौर रोड से लेकर सुदामा सेतु तक प्रथम चरण का अतिक्रमण हटाया जाएगा , जिसमें 13 अतिक्रमणकारियों को पूर्व में नोटिस जारी किये गये हैं। इन लोगों द्वारा नाले की शासकीय भूमि पर 8 से 18 फिट तक अतिक्रमण किया है, जिसे नप अमले ने पूर्व में चिन्हांकित किया हैं। अमले द्वारा यह अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई आज की जाएगी।

*इन कर्मचारियों की लगाई ड्यूटी*

तहसीलदार के द्वारा जारी किये गए आदेश के मुताबिक राजस्व विभाग के निरीक्षक व स्थानीय पटवारी के अतिरिक्त नप अमले में राजस्व उप निरीक्षक शहजाद खांन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया हैं। वहीं लक्ष्मीनारायण पंवार, विरेंद्र यादव, मयूर तिवारी अतिक्रमण स्थल पर मौजूद रहकर हटाने की कार्रवाई में सहयोग करेंगे। साथ ही नारायण पंवार, सचिन पंवार, दीपक, सचिन राठौर, नदीम खांन सीएमओं के आदेश पर कार्य करेगें। वहीं अशरफ खांन सफाई दरोगा अतिक्रमण हटाने के लिए जेसीबी, ट्रैक्टर-ट्राली सहित अन्य आवश्यक उपकरणों व अधिनस्थ कर्मचारियों के साथ अतिक्रमण हटाने का काम करेगें। नप का पूरा अमला ड्रेस कोड के साथ मैदान में उतरेगा।


Share To:

Post A Comment: