झाबुआ~बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाने से पहले पिलाया जाएगा ओआरएस का घोल, ताकि गर्मी न सताए~~

कल 23 मार्च से जिले में बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन शुरू होगा~~


झाबुआसंजय जैन~~

कल 23 मार्च से प्रदेश के साथ जिले में बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा। गर्मी के सीजन में शुरू हो रहे वैक्सीनेशन में बच्चों का विशेष ध्यान रखा जाएगा। हर केंद्र पर बच्चों के लिए ओआरएस घोल की सुविधा रहेगी। बच्चों को पहले ओआरएस का घोल पिलाया जाएगा। इसके बाद उन्हें वैक्सीन लगाई जाएगी। बच्चों की वैक्सीन भी अलग है।





  लक्ष्य लगभग 45 से 52 हजार बच्चों को वैक्सीन लगाना...
बच्चों को कार्वोवैक्स का डोज लगाया जाएगा। जिले के लिए 29 हजार वैक्सीन का डोज मिल भी चुका है। जिले का लक्ष्य लगभग 45 से 52 हजार बच्चों को वैक्सीन लगाना है,गर्मी दस्तक दे चुकी है। शरीर से निकलने वाले पसीने सहित अन्य कारणों से बच्चों में डिहाइड्रेशन का शिकार हो सकते है। केन्द्र पर आते जाते वक्त शरीर से निकलने वाले पसीने के कारण शरीर में शक्कर व नमक की कमी हो सकती है। 






29 हजार वैक्सीन डोज मिले .......
डॉ.राहुल गणावा ने बताया कि जिले के लिए 12 से 14 साल तक के बच्चों को लगाने के लिए वैक्सीन के 29 हजार डोज मिल चुके है। बच्चों को कार्वोवेक्स वैक्सीन लगाई जाएगी। शासन स्तर से जिले में 12 से 14 साल तक के लगभग 45 से 52 हजार बच्चों को डोज लगाने का लक्ष्य दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग जिला शिक्षा केन्द्र से भी बच्चों की जानकारी ले रहा है, ताकि अधिक से अधिक बच्चों को वैक्सीन लगाई जा सके।






2008 से 2010 के बीच जन्म हुआ तो लगेंगे टीके.......
 3 जनवरी 2022 से पहली बार 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू हुआ था। तब से 15 से 18 वर्ष के बच्चों को टीके लगाए जा रहे हैं। इस कारण बड़े बच्चों के स्कूल खोलने में भी आसानी हुई। अब 12 वर्ष के बच्चों को भी टीका लगाने से छोटे बच्चों को भी स्कूल भेजने में कोई हिचक नहीं रहेगी। जिन बच्चों का जन्म वर्ष 2008,2009 या 2010 में हुआ है,उन्हें टीके लगाए जाएंगे। 18 साल से कम उम्र के लोगों के लिए जिले में उपलब्ध यह कोरोना रोधी तीसरा टीका होगा।






कुछ खा पीकर ही आए.............
बच्चों को इन कमियों से बचाने के लिए शासन ने ओआरएस का घोल पिलाने के निर्देश दिए है। बच्चे जब टीकाकरण के लिए आए तो कुछ खा पीकर ही आए। बगैर कुछ खाए पिए टीका न लगवाए।
.............डॉ.राहुल गणावा-जिला टीकाकरण अधिकारी





 




Share To:

Post A Comment: