धार~फरार आरोपियों पर इनाम घोषित
कॉलोनाइजर को कोर्ट से नहीं मिली जमानत ~~

बंधक प्लाट के साथ कॉलोनी के गार्डन भी बेंच
सुधीर जैन पर कुल 30 हजारशेष आरोपियों पर 10 - 10 हजार का ईनाम घोषित ~~

धार ( डाँ.अशोक शास्त्री )।

नौगांव थाने पर दर्ज जमीन की धोखाधड़ी के दो अलग-अलग मामलों में एसपी आदित्य प्रताप सिंह ने फरार चल रहे आरोपियों पर इनाम घोषित किया है। साथ ही आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी को लेकर धार सीएसपी व थाने की पुलिस को लेकर एक टीम गठित की हैं, जो अब फरार आरोपियों की तलाश करेगी। साथ ही जमीन में मामले में शामिल अन्य लोगों की भूमिका को लेकर जांच करते हुए अहम दस्तावेज भी जुटाएगी।
दरअसल जनकल्याण के लिए दी गई मिशन अस्पताल की शासकीय जमीन को बेचने के मामले ने राजस्व विभाग की सूचना पर आरोपी सुधीर दास व अंकित वडेरा के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया था। प्रकरण में मुख्य आरोपी सुधीर दास को गिरफ्तार किया गया, जिसने रिमांड के दौरान सुधीर जैन का नाम बताया था। उक्त आरोपी सुधीर जैन कोतवाली थाने पर दर्ज सेंट टेरेसा मामले में चार माह पूर्व से ही फरार हैं, जिसपर पहले से ही 20 हजार का ईनाम घोषित है। ऐसे में नौगांव थाने पर दर्ज एक और प्रकरण में सुधीर जैन पर 10 हजार व अंकित वडेरा पर भी 10 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया है। इस तरह से सुधीर जैन पर कुल अब 30 हजार का ईनाम घोषित हो चुका है।
कॉलोनाइजर की अग्रिम हुई खारिज
शहर के निहाल नगर व साई कॉलोनी विकसित करने के दौरान 19 प्लाट बंधक के रुप में कॉलोनाइजर के द्वारा नपा के समक्ष रखे गए थे, इन प्लॉटों की बिक्री को लेकर नौगांव थाने पर इंदौर निवासी आरोपी गौतम जैन व आरोपी अनूज उर्फ भोला तिवारी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया था। इन दोनों फरार आरोपियों पर भी 10-10 हजार का इनाम घोषित किया गया था। इधर आरोपी भोला तिवारी की जमानत को लेकर धार कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका भी लगी हुई थी, जिसपर बुधवार को सुनवाई व शाम के समय कोर्ट ने अग्रिम को खारिज कर दिया है। अभिभाषक केसी यादव ने बताया कि कॉलोनाइजरों ने निहाल नगर कॉलोनी में निर्माण के दौरान बताए 5 गार्डन में से 4 गार्डन को बेच दिया हैं, तथा 19 बंधक प्लाट सहित गरीबों के लिए रिक्त रहने वाले कुछ प्लाट बेचे है। जिसके कारण ही कोर्ट ने जमानत खारिज कर दी है।

-----,


Share To:

Post A Comment: