भोपाल~धोखाधडी के सगठित गिरोह का पर्दाफाश करने मे थाना प्रभारी नीरज बिरथरे की टीम को मिली सफलता~~

भोपाल ,(सैयद रिजवान अली)

*9 करोड 91 लाख के क्‍लोन चैक से पंजाब नेशनल बैंक मनावर व दिलीप बिल्डकॉन कम्पनी को आर्थिक हानि पहचाने से पहले संगठित सफेदपोश अपराधिक गिरोह के 06 अपराधी गिरफ्तारी*

फर्जी क्‍लोन चैक तैयार कर अन्तर्राष्ट्रीय दिलीप बिल्डकॉन कम्पनी एंव राष्ट्रीय पंजाब नेशनल बैंक मनावर को भारी भरकम 9 करोड़ 91 लाख रुपये का चूना लगाने वाले थे अपराधी ।
2, सफेदपोश अपराधियों के एक संगठित गिरोह मे एक दर्जन के करीब अपराधियो के शाघिल होने की संभावना ।
3. लोन चैक तैयार कर पूर्व में इस्तमाल शुदा चैक के नम्बर का प्रयोग कर फर्जी क्लोन चैक पर दिलीप विल्डकॉन की कुटरचित सील पर कुटरचित जाली हस्ताक्षर कर चल रहा था राशी हडपने का खेल।
रामभेश्वर काग निवासी मनावर के द्वारा 9 करोड 91 लाख के फर्जी चैक को पजाव नेशनल बैंक मनाबर में पेश करने पर बैंक द्वारा उक्त चेक के संबध मे दिलीप बिल्डकॉन से जानकारी प्राप्त करने पर हुआ भांडाफोड।
2-2% के हिसाब से अब तक गिरफ्तार छः अप्रोपीयो में कुल राशी का 12% बाटा जाना था । इस श्रृंखला के अन्य आरोपीयो की तलाश जारी है।
लगातार पंजाब नैशनल बैंक मनावर एंव दिलीप बिल्डकॉन कम्पनी के साथ धोखाथडी कर आर्थिक हानि पहचाने के आशय से तैयार संगठित सफेदपोश अपराधियो के गिरोह पर अबतक देशभर में करीब दो दर्जन से
अधिक अपराध पंजीबद्ध किये गये, भोपाल एस.टी.एफ. के द्वारा भी 10 से अधिक ऐसे संगठित अपराधों की विवेचना की जा रही है।
घटना का संक्षिप्त विवरण - थाना मनावर पर दिनांक 30.03.2022 को पंजाब नेशनल बैंक मनावर के मैनेजर लक्ष्मीनारायण पारिक द्वारा एक लेखी आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया, आवेदक के अनुसार 25.03.22 को पंजाब नेशनल बैंक मनावर की शाखा में आकर रामा कार्गेश्वर निवासी मनाबर द्वारा दिलीप बिल्डकॉन कंपनी का 9 करोड़ 91 लाख क्लीयरेंस हेतु पेश किया, बैंक मैनेजर द्वारा जब चैक के संबंध में जानकारी प्राप्त की गई, तो उक्त नंबर का चैंक 10,74,424 रुपय का होकर दिनाक 11.05.2021 को टाटा मोटर्स को जारी किया गया था जिसका पूर्व में बैंक द्वारा भुगतान हो चुका है, आरोपी के द्वारा फर्जी क्‍लोन चैक, कूटरचित हस्ताक्षर कर बैंक तथा दिलीप बिल्डकोॉन कंपनी से धोखाधड़ी करने एवं अवैध लाभ कमाने के आशय से पंजाब नेशनल बैंक मनावर पें पेश किया गया, उक्त शिकायत आवेदन के प्रथम दृष्टया अवलोकन उपरांत आगेपी रामा कागेश्वर व उसके अन्य साथियों के विरुद्ध थाना मनावर पर अपराध क्रं. 336/30.03.2022 धारा 420, 467, 468, 471,
120वी भादवि का पंजीवद्ध कर विवेचना मे लिया गया।
उल्लेखनीय कार्य -
पुलिस अधीक्षक महोदय धार द्वारा सम्पूर्ण जिले में अवैध भूमाफिया, सफेदपोश, फर्जी तरिके से धोखाधडी करने वालें आरोपीयो पर नकेश कसने हेतू लगातार थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया, जिसके तारतम्य मे पुलिस अधीक्षक महोदय जिला धार आदित्य प्रतापसिह एंव अतिरिक्त पुलिस महोदय देवेन्द्र पाटीदार के निर्देशन एव अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) मनावर धीरज बष्बर के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी (कार्यवाहक) निरीक्षक नीरज बिरथरे थाना मनावर थाना मनावर टीम  पिता गोपाल कागेश्वर निवासी कुक्षी, राम पिता ओकार पाटीदार नियासी ग्राम कटी, बलराप्र पिता राधेश्याण पाटीदार निवासी ग्राम सिरसी थाना मनावर , मयंक जैन
पिता प्रसन्‍त कुमार जैन निवासी इंदौर, राहुल पिता राजकुमार निवासी जबलपुर, राकेश तिवारी पिता स्व, माधव प्रसाद तिवारी निवासी नरसिंहपुर को गिरफ्तार किया गया।
थाना प्रभारी (का) नीरज कुमार बिरथरे, उनि नीरज कोचले, उनि जितेन्द्र बघेल, छउनि राजेश हाडा, आर, 945 राघवेन्द्र परमार का विशेष योगदान रहा। क्षेत्र की जनता मनावर थाना प्रभारी नीरज बिरथरे और की पूरी टीम की प्रशंसा कर रही है।


Share To:

Post A Comment: