नसरुल्लागंज ~ मनाया गया गौरव दिवस मुख्य अतिथि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रहे~~

लेकिन मंच पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता अपनी नींद पूरी करते हुए दिखे~~

मुख्यमंत्री के अभिभाषण पर एक बालिका ने उठाई अपनी आवाज लेकिन किसी ने नहीं सुनी उसकी बात~~

जो नगर में सम्मान के अधिकारी थे उन्हें किया मंच से दूर~~

नसरुल्लागंज से आनंद अग्रवाल जिला ब्यूरो की रिपोर्ट~~


नसरुल्लागंज मैं आज मनाया नसरुल्लागंज गौरव दिवस इस गोरव दिवस पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा करोड़ों रुपए की सौगात दी गई जिसमें नसरुल्लागंज में कृषि उपज मंडी के द्वारा कृषि भवन का जोकि दो करोड़ की लागत से बना है उसका आज लोकार्पण किया गया साथ ही कहीं नव निर्माण कार्य का भूमि पूजन एवं लोकार्पण किया गया लेकिन मंच पर कुछ और नजारा देखने को मिला रहा था पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता मंच पर अपनी नींद पूरी कर रहे थे मुख्यमंत्री के अभिभाषण के बीच में एक बालिका स्पीकर पर खड़ी होकर अपनी मांग को लेकर आवाज उठाने लगी लेकिन ना मुख्यमंत्री ना किसी नेता ने उस बालिका की बात सुनी उसे पुलिस प्रशासन द्वारा समझा का उतार लिया गया लेकिन मंच पर नसरुल्लागंज गौरव दिवस पर ऐसा लगा रहा था कि गौरव दिवस नहीं बीजेपी दिवस बनाया जा रहा है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिसका नाम लिखा उनको ही सम्मानित किया जो इस गौरव दिवस पर सम्मान के अधिकार थे उन सभी को इन बीजेपी के नेताओं उन सभी के नाम लिस्ट से हटा दिए मात्र भारतीय जनता पार्टी की छवि बनाने के लिए कांग्रेस पार्टी के नेताओं को बुलाकर सम्मानित करवा दिया गया और  जिन्हें सम्मान मिलना चाहिए था उन्हें सम्मान से दूर कर दिया गया और जिन्होंने नसरुल्लागंज नगर के लिए आज तक कुछ नहीं किया उन्हें सभी व्यक्तियों का सम्मानित किया गया आज ऐसा लग रहा था कि अधिकारियों के ऊपर नेता भारी पड़  इसलिए तो नेता नगरी कि आज हर जगह बल्ले बल्ले हो रही


Share To:

Post A Comment: