धार~ जैन दंपत्ति की संपत्तियों पर पुलिस ने किए नोटिस चस्पा, 28 दिन बाद कुर्क होगी संपत्ति ~~

मामला करोड़ों की जमीन घोटाले में दर्ज प्रकरण के बाद आरोपितयों को भूमिगत हो जाने का ~~

धारा 82 के तहत पुलिस ने की कार्रवाई, 1 महीने में कर सकते हैं सरेंडर ~~

धार ( डाँ.अशोक शास्त्री )।

करोड़ों की जमीन अफरा-तफरी मामले में 4 मुख्य आरोपितों में शामिल सुधीर शांतिलाल पिछले 6 महीने से अपनी पत्नी के साथ भूमिगत हो गए हैं। पुलिस इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी में असफल होने के बाद कोर्ट के माध्यम से धारा 82 के तहत नोटिस चस्पा करके मियादी अवधि के बाद संपत्ति कुर्क की कार्रवाई को अंजाम देगी। रविवार को धार पुलिस ने करीब 20 स्थानों पर नोटिस चस्पा किए है। इसमें 28 दिन के भीतर पुलिस के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। उल्लेखनीय है कि पुलिस के अनुसार जनकल्याण हितार्थ दान की भूमि को सुधीर उर्फ बनी दास और अखिलेश शर्मा सहित विवेक तिवारी और सुधीर शांतिलाल ने सुनियोजित तरीके से मिलकर बिक्री की है। इसमें 3 मुख्य आरोपी पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके है। इनमें से कुछ जमानत पर रिहा हो चुके है।
चालान की तैयारियों में जुटी पुलिस
कोतवाली पुलिस इस बहुचर्चित मामले में सुधीर शांतिलाल के साथ उनकी पत्नी को भी तलाश रही है। 28 नवंबर को प्रकरण दर्ज किया गया था। दो दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जैन दंपत्ति पिछले 8 महीने से भूमिगत है। एक दिन पूर्व श्रीमती जैन की सुप्रिम कोर्ट से अग्रिम जमानत आवेदन भी खारिज हो चुका है। ऐसी परिस्थिति में उनके पास भी सरेंडर करने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है। इधर पुलिस चालान पेश करने की तैयारियों में भी जुटी हुई है। हजारों पृष्ठों को चालान बनाया जा रहा है। जिसमें कथन दर्जन करने का सिलसिला अभी भी जारी है।


Share To:

Post A Comment: