*नसरुल्लागंज~ग्राम धोलपुर एवं ग्राम बाईसाद की आंगनबाड़ियों मे नियम विरुद्ध हो रही नियुक्त है* ~~

नसरुल्लागंज से  तहसील ब्यूरो कन्हैया राठौर की रिपोर्ट~~

नसरुल्लागंज जनपद पचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत धौलपुर में आंगनबाड़ी कार्य करता का स्थान रिक्त हुआ था जिसको लेकर महिला बाल विकास परियोजना के द्वारा विज्ञप्ति निकाली गई थी जिसमें गांव की मनीषा धनवारे के द्वारा भी आवेदन दिया गया था जोकि ग्राम धौलपुर की मूल निवासी है लेकिन मनीषा का चयन ना करते हुए अन्य बाहर की महिला का रिक्त हुए स्थान पर*चयन कर दिया गया मनीषा का कहना है कि जिसका चयन किया गया है वह गांव में निवास नहीं करती है और ना ही इनका कोई मूलनिवासी भी नहीं है  10 सालों से घर मकान बेचकर यहां से चले गए हैं यहां पर कोई भी निवास नहीं करता है वही मनीषा का कहना है कि जब मैं इसकी आपत्ति जमा करने के लिए महिला बाल विकास गई तो वहां पर मौजूद अधिकारियों ने मुझसे बदतमीजी की और मेरी आपत्ती लेने से मना कर दिया इसके बाद मैं एसडीएम के पास पहुंची और समस्या बताई एसडीएम  के द्वारा साइन किए गए इसके बाद मेरी आपत्ति ली गई। मनीषा का कहना है कि जो गांव में निवास करता हो उसी का चयन किया जाए वही नसरूल्लागंज तहसील अन्तर्गत आने वाले ग्राम बाईसाद, निवासी  रेखा बाई पति गोविंद अनीता बाई पत्नी भूर सिंह मनीषा पत्नी ऐशराम सभी निवासी ग्राम बाईसाद  के है।इन्होंने आरोप लगाया है की महिला बाल विकास द्वारा जो नियुक्ति हो रही है कार्यकर्ता की वह नियम विरुद्ध हो रही है क्योंकि वह ग्राम बाईसाद की निवासी है ही नहीं वह नसरुल्लागंज की निवासी है उसके बावजूद भी महिला बाल विकास अधिकारी नियुक्त कर रहे हैं।जबकी इन दोनों गांव धोलपुर ,बाईसाद आगनवाडियो मे जो नियक्ति हो रही हे दोनों आवेदन कर्ता सक्षम हे।जबकी शिकायत कर्ता गरीब दलित परिवार से सबन्ध रखती है। उनको आगनवाडी की नोकरी की अति आवशयकता हे लेकिन इन गरीब दलितो का हक मारकर सक्षम को नोकरी दी जा रही है।


Share To:

Post A Comment: