बडवानी ~फरीयादी ही निकले लुटेरे, लूट का रचा षडयंत्र ~~

06 घंटे में पुलिस ने किया षडयंत्र का पर्दाफाश ~~

अपराध क्र.- 402/2022                                        धाराः- 392 भादवि
गिरफ्तार आरोपी का नामः-  (1) भगवान पिता शंकर बघेल जाति भील उम्र 38 वर्ष निवासी ग्राम बडवान्या
                            थाना डही जिला धार
                      (2) मनोज पिता शंकरलाल पाटीदार उम्र 42 वर्ष निवासी  ग्राम खंडवा पिपलिया
                          चौकी निसरपुर जिला धार
गया मश्रुका –  कुल नगदी 36 लाख पचास हजार रूपये
जप्ती मश्रुका/किमतः- (1) आरोपी मनोज से 3150000 (31 लाख 50 हजार) रुपये एवं एक मारुति
                  एक्सप्रोसो कार किमती 450000 (4 लाख पचास हजार ) रुपये कुल 36 लाख रुपये
                  (2) आरोपी भगवान से नगदी 500000 लाख ( 5 लाख रुपये ) रुपये व दो मोबाईल
               किमती 4000 ( 4 हजार रुपये ) कुल 504000 लाख ( पाँच लाख चार हजार रुपये )
              कुल जप्त4 मश्रुका नगदी 36 लाख पचास हजार रूपये घटना में प्रयुक्त0 कार किमती 4 लाख पचास
             हजार रूपये व दो मोबाईल किमती 4000/-कुल किमती 41 लाख 4000 हजार रूपये

घटना का संक्षिप्त विवरणः-  दिनाँक 03/06/2022 को फरियादी भगवान पिता शंकर बघेल जाति भिलाला उम्र 38 वर्ष निवासी ग्राम बडवान्या थाना डही जिला धार ने रिपोर्ट किया कि उसके साथ कल शाम 6 बजे धाबाबावडी घाट पर 36 लाख 50 हजार रूपये व दो मोबाईल अज्ञात बदमाशों द्वारा कटटा अडाकर लूट लिये गये है। फरियादी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमाँक 402/2022 धारा 392 भादवि का पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया ।
मामले का किस प्रकार हुआ खुलासा:-- मामले की गम्भींरता को देखते हुये श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय जिला बडवानी श्री दिपक कुमार शुक्ला .अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय जिला बडवानी श्री आर.डी. प्रजापति एवं श्रीमान एसडीओपी महोदय अनुभाग बडवानी श्रीमती रुप रेखा यादव स्वंय घटनास्थल पर पहुँचकर थाना प्रभारी बडवानी निरीक्षक शंकरसिह रघुवंशी व थाना प्रभारी सेंधवा राजेश यादव, थाना प्रभारी पलसुद निरीक्षक भवानीराम वर्मा, थाना प्रभारी सिलावद उनि विजय रावत, थाना प्रभारी पाटी आर.के.लौवंशी व जिला बडवानी की सायबर टीम को त्वरित कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया. निर्देश के दौरान सेंधवा से बडवानी तक सीसीटीवी वीडियो चेक करवाये गये, संपुर्ण जिले में नाकाबंदी की गई तथा बारीकी से विवेचना करने पर फरीयादी घटनास्थिल पर लगभग 2 घंटे बाद में पहुचा जबकि रास्ताी 1 घंटे का भी नही था ए.सी. गाडी में इंटर लॉक होते हुए भी मिर्ची गाडी के अंदर डाल देना तथा गाडी की चाबी गाडी में लगे होना ड्रायवर के मालीक द्वारा जिससे पैसे लाये थे उससे बात न कर गुजरात के व्यानपारी जिसको पैसे देना था उससे बात करना कुछ ऐसे तथ्ये आये जिससे विवेचना की सुई फरीयादी भगवान एवं मनोज  पाटीदार की ओर मुड गई,  फरीयादी द्वारा लगातार पुलिस को गुमराह किया जा रहा था, जिससे संदेह उत्प न्नद होने पर पुलिस द्वारा सख्ती् से पुछताछ की गई । पुछताछ के दौरान  फरियादी टुट गया एवं स्वंदय उसके  भगवान से सख्ती से पुछताछ की गई,उसके सेठ मनोज पाटीदार द्वारा लूट की घटना को षडयंत्र पुर्वक अंजाम देने की योजना बनाना स्वी कार किया । योजना अनुसार फरीयादी सेंधवा से रूपये 36 लाख 50 हजार लेकर रवाना हुआ और धाबाबावउी आकर उसने वह रूपये अपने सेठ को बुलाकर दे दिये और अपने हिस्सेर के 5 लाख रूपये स्वं य रख लिये एवं अपने दोनो मोबाईल फोन सडक के किनारे छुपा दिये बाद राहगीर से फोन लेकर अपने सेठ को फोन लगाया एवं पुलिस को भी सूचना प्राप्तक हुई की तथा कथित फरीयादी के साथ कुछ बदमाशों ने आर्टिका गाडी सामने से अडाकर एवं पलसर मोटर सायकल पर कुछ बदमाशो ने आकर कटटा अडाकर एवं मिर्च पावडर फेंककर लूट की घटना की है। 
विशेष भूमिकाः- निरीक्षक शंकरसिंह रघुवंशी  थाना प्रभारी थाना बडवानी, निरीक्षक राजेश यादव थाना प्रभारी सेंधवा शहर, निरीक्षक भवानीराम वर्मा थाना प्रभारी पलसुद, उनि विजय रावत थाना प्रभारी सिलावद, उनि आर.के.लौवंशी थाना प्रभारी पाटी, उनि रितेश खत्री सायबर सेल प्रभारी जिला बडवानी एवं थाना बडवानी के उनि अजमेरसिंह अलावा, उनि वीरबहादुरसिंह चौहान, उनि राजीवसिंह औशाल, सउनि आशीक खॉन, सउनि विक्रम सिंह किराडे, प्रआर 229 जगजोध सिंह चौहान, प्रआर 70 शैलेन्द्रि सिंह परिहार,  प्रआर 287 प्रशांत मिश्रा,  प्रआर 116 अजमेर सिंह रावत, प्रआर 133 राजेन्द्र0 सिंह डावर, प्रआर 180 योगेश पाटील, आर.माडिया डावर, आर.विशाल  आऱ 554 पंकज आर.376 योगेश्ववर चौहान, आर.254 दीपक, आर.29 दीपक डोडियार, आर.127 यादवेन्द्रर पंवार, मआर 599 लक्ष्मीत जमरा ।


Share To:

Post A Comment: